scorecardresearch
 
सेहत

Coronavirus: सर्दियों में ट्विनडेमिक्स बढ़ाएगा मुश्किल! बचाव का सिर्फ एक तरीका

ठंड के मौसम में वायरस का खतरा ज्यादा
  • 1/7

कोरोना वायरस के प्रकोप को एक साल होने वाले हैं और अब तक इसकी कोई सटीक दवा खोजी नहीं जा सकी है. दुनिया भर में इसके मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. एक्सपर्ट का कहना है कि ठंड के मौसम में स्थिति और खराब हो सकती है और संक्रमण के मामले दोगुनी तेजी से बढ़ सकते हैं. ठंड के मौसम में सर्दी-खांसी आम है, ऐसे में वायरस का दोहरा खतरा हो सकता है.

ठंड के मौसम में बढ़ जाता है श्वसन संक्रमण
  • 2/7

ठंड के मौसम में बढ़ जाता है श्वसन संक्रमण- शुरूआत में कहा जा रहा था कि गर्मी के मौसम में वायरस का खतरा कम हो सकता है. हालांकि इन सभी दावों पर पानी फिर गया. वहीं ठंड के मौसम में कोरोना वायरस का दर तेजी से बढ़ सकता है. श्वसन संक्रमण या फिर अस्थमा जैसी बीमारी आमतौर सर्दियों के मौसम में बढ़ जाती है. इसलिए बार-बार ठंड में इसके खतरे को दोगुना बताया जा रहा है.

आने वाले महीनों में 'ट्विनडेमिक' का खतरा
  • 3/7

आने वाले महीनों में 'ट्विनडेमिक' का खतरा- उम्मीद जताई जा रही है कि कोरोना वायरस की कारगर और असरदार वैक्सीन 2021 जुलाई तक आ पाएगी. एक्सपर्ट ने चिंता जताई है कि ठंड के मौसम में लोग इन्फ्लूएंजा और कोरोना वायरस दोनों के संपर्क में आ सकते हैं, विशेषज्ञ इसे ट्विनडेमिक (twindemic) कह रहे हैं. ट्विनडेमिक की ये स्थिति और भयानक हो सकती है. हर जगह पहले से ही अस्पतालों में मरीजों की भारी भीड़ है, ऐसे में सर्दियों के मौसम में अस्पतालों को विशेष तैयारी करनी होगी

ठंड के मौसम में श्वसन संबंधी बीमारियां घातक क्यों हो जाती हैं
  • 4/7

ठंड के मौसम में जानलेवा हो सकती हैं सांस की बीमारियां- वायरस शुष्क हवा और ठंडे मौसम में लंबे समय तक जीवित रहते हैं. इसके अलावा, ह्यूमिडिटी में एरोसोल बन जाने की वजह से भी ये वायरस तेजी से फैलता है. ठंड के मौसम से संक्रमण फैलने की एक वजह ये भी है कि इन दिनों शरीर को धूप नहीं मिल पाती है, जिसकी वजह से शरीर में विटामिन डी की कमी हो जाती है. शरीर में विटामिन डी की कमी से इम्यून सिस्टम भी कमजोर हो जाता है. 
 

ठंड के मौसम में खुद को वायरस से कैसे बचाएं?
  • 5/7

ठंड के मौसम में खुद को वायरस से कैसे बचाएं- दुनिया भर के हेल्थ एक्सपर्ट इस बात पर सहमत है कि ठंड के मौसम में कोरोना वायरस का प्रकोप दोगुनी तेजी से बढ़ेगा, ऐसे में सभी देशों को इससे निपटने की खास तैयारी करनी होगी. लोगों को महामारी की और लहर के लिए तैयार रहना होगा वरना किसी भी तरह की लापरवाही भारी पड़ सकती है. अच्छा होगा कि ठंड का मौसम शुरू होने से पहले ही आप फ्लू शॉट्स ले लें.
 

इन्फ्लुएंजा वैक्सीन कारगर
  • 6/7

ठंड के मौसम में बच्चे फ्लू की चपेट में जल्दी आ जाते हैं. हालांकि ये मौसमी फ्लू कुछ दिनों में अपने आप चला जाता है लेकिन इस बार कोरोना वायरस की वजह से ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है. हेल्थ एक्सपर्ट ठंड का मौसम शुरू होने से पहले सभी को इन्फ्लुएंजा वैक्सीन लगवाने की सलाह दे रहे हैं.
 

सख्ती से नियमों का करें पालन
  • 7/7

ठंड के मौसम में अक्सर गले में खराश हो जाती है इसलिए इस मौसम में गर्म पानी पीने की आदत डालें. इसके अलावा आप सोशल डिस्टेंसिंग और सफाई के नियमों का सख्ती से पालन करें और बिना फेस मास्क के घर से बिल्कुल भी बाहर ना निकलें.