scorecardresearch
 

कोरोनाः पहले किसे दी जाएगी वैक्सीन की डोज? स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने संडे संवाद वेबिनार में कहा कि जुलाई 2021 तक देश के कम से 20 से 25 करोड़ लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पहले फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर्स को मिलेगी डोज
  • जुलाई 2021 तक 25 करोड़ वैक्सीनेशन का लक्ष्य
  • स्वास्थ्य मंत्री ने संडे संवाद को किया संबोधित

कोरोना वायरस की महामारी का कहर जारी है. कोरोना की वैक्सीन कब तक आएगी और शुरू में वैक्सीन की डोज किसे दी जाएगी? केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने इन सभी बिंदुओं पर अपने साप्ताहिक कार्यक्रम संडे संवाद में चर्चा की. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सरकार की तैयारी देश के हर नागरिक तक वैक्सीन पहुंचाने की है.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्यों से आबादी के लिहाज से प्राथमिकता वाले समूहों की सूची तैयार करने को कहा गया है. सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन कोरोना वॉरियर्स को वैक्सीन की डोज दी जाएगी. उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश है कि वैक्सीन तैयार होने के बाद 40 से 50 करोड़ डोज प्राप्त कर लिए जाएं.

स्वास्थ्य मंत्री ने संडे संवाद वेबिनार में कहा कि जुलाई 2021 तक देश के कम से 20 से 25 करोड़ लोगों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. इसके लिए योजना तैयार की जा रही है. उन्होंने कहा कि पारदर्शिता और जवाबदेही सुनिश्चित की जाएगी. हम कोरोना वैक्सीन के ब्लॉक स्तर पर वितरण की योजना पर काम कर रहे हैं.

वैक्सीन की खरीद, आपूर्ति और वितरण के लिए नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति के गठन की जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हम यह सुनिश्चित करेंगे कि वैक्सीन उन लोगों तक पहुंचे, जिन्हें इसकी सबसे ज्यादा आवश्यकता है.

बता दें कि देश में कोरोना संक्रमितों की तादाद 65 लाख 49 हजार के पार पहुंच चुकी है. 55 लाख से अधिक संक्रमित उपचार के बाद ठीक हो चुके हैं, जबकि 1 लाख 1 हजार से अधिक संक्रमितों की मौत हो चुकी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें