scorecardresearch
 
सेहत

Erectile Dysfunction: रोमांस में कड़वाहट घोल रहा इरेक्टाइल डिसफंक्शन? ये 10 चीजें देंगी राहत

इरेक्टाइल डिसफंक्शन
  • 1/11

कई पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या होती है और इसका असर उनकी सेक्स लाइफ पर भी पड़ता है. इसका इलाज कराने के लिए कई लोगों को डॉक्टर्स के चक्कर भी लगाने पड़ते हैं लेकिन कुछ खास बातों का ध्यान रखकर इस बीमारी से बचा जा सकता है. आइए जानते हैं इनके बारे में.
 

वजन का रखें ध्यान
  • 2/11

वजन का रखें ध्यान- वजन बढ़ने का बुरा असर सेक्स लाइफ पर पड़ता है. मोटापे के साथ कोलेस्ट्राल का स्तर बढ़ने और डायबिटीज होने की संभावना बढ़ जाती है. ये दोनों चीजें एरेक्शन की दिक्कत बढ़ाती हैं. एक स्टडी के मुताबिक जिन पुरुषों की कमर 40 इंच से ज्यादा होती है उनमें इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या ज्यादा पाई जाती है. अगर आप इस बीमारी से दूर रहना चाहते हैं तो आज से ही वजन कंट्रोल करना शुरू कर दें.
 

मेडिटेरिनियन डाइट अपनाएं
  • 3/11

मेडिटेरिनियन डाइट अपनाएं-  इरेक्टाइल डिसफंक्शन अक्सर दिल की बीमारी से जुड़ा होता है. ऐसी डाइट जो दिल के लिए अच्छी होती है वो इरेक्शन के लिए भी अच्छी होती है. धमनियों को ब्लॉक करने वाले खाने जैसे कि फुल फैट डेयरी, तले-भुने खाने और रेड मीट से दूर रहें. ज्यादा से ज्यादा ताजे फल, सब्जियां, मछली और साबुत अनाज खाएं. इसका असर जल्द ही आपको अपनी सेक्स लाइफ में दिखेगा.
 

ब्लड प्रेशर का रखें ध्यान
  • 4/11

ब्लड प्रेशर का रखें ध्यान- हाई ब्लड प्रेशर आपके रक्त वाहिकाओं को संकुचित कर सकता है. इससे शरीर में खून धीमी गति से बहता है. जिन पुरुषों के लिंग में खून की पर्याप्त मात्रा नहीं पहुंच पाती है उन्हें आसानी से इरेक्शन नहीं हो पाता है. अगर आपको इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या है तो आपको नियमित रूप से अपना ब्लड प्रेशर चेक करते रहना चाहिए. हो सकता है कि आपका ब्लड प्रेशर हाई रहता हो और आपको इसका पता भी ना चलता हो.
 

हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करें
  • 5/11

हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करें- कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर रक्त वाहिकाएं संकुचित हो जाती हैं और ब्लड फ्लो कम हो जाता है. इससे इरेक्शन होने में मुश्किल हो सकती है. अगर आपको हाई कोलेस्ट्रॉल की दिक्कत हो तो आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए और अपनी डाइट में बदलाव करना चाहिए.
 

डायबिटीज को रखें कंट्रोल
  • 6/11

डायबिटीज को रखें कंट्रोल- जो लोग अपनी डायबिटीज को कंट्रोल में नहीं रख पाते हैं उनमें इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या ज्यादा पाई जाती है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हाई ब्लड शुगर लिंग की नसों और रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचाता है. अगर आपका भी ब्लड शुगर बढ़ा रहता है तो डॉक्टर से संपर्क कर इसे कम करने की कोशिश करें. 
 

स्मोकिंग छोड़ दें
  • 7/11

स्मोकिंग छोड़ दें- स्टडी के मुताबिक स्मोकिंग ना करने वालों की तुलना में स्मोकिंग करने वालों में इरेक्शन की समस्या दोगुनी होती है. स्मोकिंग रक्त वाहिकाओं को संकुचित करता है इसलिए इसका असर सेक्स लाइफ पर पड़ता है. स्मोकिंग करने वालों पर इरेक्टाइल डिसफंक्शन की दवाओं का भी असर नहीं होता है.
 

एक्सरसाइज करें
  • 8/11

एक्सरसाइज करें- एक्सरसाइज करने से सेक्स लाइफ अच्छी होती है. ये दिल और रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ रखता है, वजन कंट्रोल मे रखता है, तनाव दूर करता है और मूड को अच्छा रखता है. बहुत कठिन वर्कआउट से बचें. एक स्टडी के मुताबिक हर दिन 30 मिनट टहलने से भी इरेक्टाइल डिसफंक्शन की संभावना कम होती है.
 

टेस्टोस्टेरोन पर रखें नजर
  • 9/11

टेस्टोस्टेरोन पर रखें नजर- 30 की उम्र के बाद टेस्टोस्टेरोन का स्तर धीरे-धीरे कम होने लगता है. टेस्टोस्टेरोन के बहुत ज्यादा कम होने का असर सेक्स ड्राइव और इरेक्शन की क्षमता पर पड़ सकता है. ब्लड टेस्ट के जरिए आप जान सकते हैं कि आपका टेस्टोस्टेरोन कम है या नहीं और उस हिसाब से आप अपना इलाज कर सकते हैं.
 

तनाव लेने बचें
  • 10/11

तनाव लेने बचें- काम या रिश्तों में समस्या की वजह से होने वाले तनाव से बचने की कोशिश करें. तनाव यौन इच्छा पर सीधा असर डालता है. इरेक्टाइल डिसफंक्शन होने पर आपका तनाव और बढ़ सकता है. आप जितना कम तनाव लेंगे, आपकी सेक्स लाइफ उतनी ही बेहतर होगी.
 

स्लीप एपनिया का इलाज करें
  • 11/11

स्लीप एपनिया का इलाज करें- शोध में स्लीप डिसऑर्डर और इरेक्टाइल डिसफंक्शन के बीच एक संबंध पाया गया है. अगर आपको स्लीप एपनिया की शिकायत है तो इसका इलाज कराने पर आपकी इरेक्शन की समस्या में भी सुधार आएगा. अगर आपको लगता है कि आपको नींद से जुड़ी कोई भी बीमारी है तो अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें.