scorecardresearch
 

2 अक्टूबर से एक के बाद एक कर बढ़ रहीं आर्यन खान की मुश्किलें, जानिए अब तक केस में क्या-क्या हुआ?

शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. क्रूज ड्रग्स केस में गिरफ्तार आर्यन की जमानत याचिका पर बुधवार को सुनवाई हुई. इस दौरान एक बार फिर आर्यन खान की जमानत टल गई है. कोर्ट अब इस मामले में गुरुवार को 11 बजे फिर से सुनवाई करेगा. अब सभी की निगाहें इस पर टिकी हैं कि आर्यन को जमानत मिलती है, या एक बार फिर उन्हें 'तारीख पर तारीख' ही मिलेगी.

शाहरुख के साथ आर्यन खान (फाइल फोटो) शाहरुख के साथ आर्यन खान (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • वकील का दावा- आर्यन खान के पास नहीं मिली ड्रग्स
  • आर्यन की जमानत याचिका पर अब गुरुवार को सुनवाई

शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. क्रूज ड्रग्स केस में गिरफ्तार आर्यन की जमानत याचिका पर बुधवार को सुनवाई हुई. इस दौरान एक बार फिर आर्यन खान की जमानत टल गई है. कोर्ट अब इस मामले में गुरुवार को 11 बजे फिर से सुनवाई करेगा. अब सभी की निगाहें इस पर टिकी हैं कि आर्यन को जमानत मिलती है या एक बार फिर उन्हें 'तारीख पर तारीख' ही मिलेगी.

आर्यन खान केस में अब तक क्या-क्या हुआ? 

- 2 अक्टूबर को एनसीबी ने क्रूज ड्रग्स मामले में आर्यन खान को गिरफ्तार किया था.
- 3 अक्टूबर को किला रोड कोर्ट से 4 अक्टूबर तक रिमांड मिली. 
- 4 अक्टूबर को कोर्ट ने आर्यन को 7 अक्टूबर तक के लिए एनसीबी की रिमांड पर भेजा. 
- 7 अक्टूबर से आर्थर रोड जेल में बंद हैं आर्यन खान. 
- 7 अक्टूबर को आर्यन खान की पेशी हुई. उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया
- 8 अक्टूबर को जमानत याचिका खारिज हो गई. कोर्ट ने कहा, जमानत पर सुनवाई अधिकार क्षेत्र से बाहर है. 
- 8 अक्टूबर को किला रोड कोर्ट ने सेशन कोर्ट जाने के लिए कहा.
- आर्यन खान के वकील सेशन कोर्ट पहुंचे. कोर्ट ने 11 अक्टूबर को एनसीबी से कोर्ट ने जवाब मांगा
- एनसीबी ने जवाब दाखिल करने के लिए 1 हफ्ते का वक्त मांगा
- कोर्ट ने एनसीबी को 13 अक्टूबर तक जवाब दाखिल करने के लिए वक्त दिया था
- 13 अक्टूबर को कोर्ट में दोनों पक्षों ने अपनी दलीलें रखीं. इस मामले में अब आज यानी 14 अक्टूबर को सुनवाई 

बुधवार को कोर्ट में क्या क्या हुआ?

इससे पहले आर्यन खान की ओर से वरिष्ठ वकील अमित देसाई पेश हुए. अमित देसाई ने हिट एंड रन केस में सलमान खान का पक्ष रखा था. अमित देसाई ने कहा, इस केस में ड्रग सेवन, बिक्री और खपत ये तीन पॉइंट्स हैं. इसमें तीन लोगों से ही जब्ती हुई है. अरबाज मर्चेंट से जो मात्रा बरामद हुई है, वह काफी कम है. जबकि आर्यन के पास से कोई बरामदगी नहीं हुई

उन्होंने कहा, एनसीबी ने टर्मिनल पर आर्यन और अरबाज को रोका था. पंचनामे के मुताबिक, आईओ ने पूछा कि क्या उनके पास ड्रग्स हैं. उन्होंने माना कि चरस है. मर्चेंट ने माना कि वे आर्यन के साथ चरस का सेवन कर रहे थे. आर्यन को प्रतीक गाबा ने आमंत्रित किया, लेकिन उसे पुलिस ने गिरफ्तार नहीं किया. आर्यन अपने दोस्त मर्चेंट के साथ क्रूज पर गए थे. जब वे चेक इन कर रहे थे, एनसीबी ने उन्हें रोक लिया 

इंटरनेशनल ड्रग नेटवर्क का हिस्सा हो सकते हैं आर्यन

एनसीबी के वकील अद्वैत सेठना ने कहा, रिकॉर्ड में ऐसी सामग्री है, जिससे पता चलता है, आर्यन खान विदेश में कुछ ऐसे लोगों के संपर्क में थे जो ड्रग्स की अवैध खरीद के लिए इंटरनेशनल ड्रग नेटवर्क का हिस्सा हो सकते हैं. इसकी जांच चल रही है. 

अमित देसाई ने कहा, आर्यन के पास ड्रग्स खरीदने के पैसे नहीं थे. उनके पास बेचने या सेवन करने के लिए ड्रग्स नहीं थी. वे बिक्री में शामिल नहीं थे. मर्चेंट ने भी केवल सेवन की बात की है. आर्यन का दूसरे आरोपियों से कोई संबंध नहीं है. एनसीबी की दलील है कि दोनों आरोपी जुड़े हुए हैं. वे दोस्त हैं. हम इसे स्वीकार करते हैं. दोनों साथ में बड़े हुए हैं. एक दूसरे को जानते हैं. लेकिन इंटरनेशनल लिंक के आरोप बहुत गंभीर हैं. जिन्हें आर्यन पर थोपा गया है. उन्हें इस शब्द का प्रयोग करने में सतर्क रहना चाहिए था. 

'पूरी व्हाट्सएप चैट केस के लिए अहम- एनसीबी'

NCB के वकील एएसजी अनिल सिंह  ने कहा, पूरी व्हाट्सएप चैट इस केस के लिए अहम है. लेकिन हमने इसमें से कुछ खास लोगों को ही चिह्नित किया है. चैट में थोक मात्रा में प्रतिबंधित सामग्री खरीदने की बात है. विदेशी नागरिकों के साथ खूब बातें हुई हैं.

अब तक इस मामले में 20 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. चार ड्रग तस्कर हैं. इसमें आचित कुमार ड्रग पेडलर है. जिससे कमर्शियल क्वांटिटी मिली है. उससे आर्यन और अरबाज ने बात की है. एक और आरोपी शिवराज भी अरबाज के संपर्क में था. 

उन्होंने कहा, आर्यन और विदेशी नागरिक के बीच व्हाट्सएप के जरिए हार्ड ड्रग्स की कमर्शियल मात्रा और भुगतान को लेकर बातें हुई हैं. ये बात निजी उपभोग के लिए नहीं हो सकती है. हमने विदेश मंत्रालय से संपर्क किया. ताकि विदेशी नागरिक का पता लगाया जा सके. इससे पहले आर्यन के वकील सतीश मानेशिंदे ने कहा, मेरी अपील है कि एएसजी अपनी बहस आज ही पूरी कर लें, गुरुवार को हम इस पर बहस करेंगे. इस पर अनिल सिंह ने कहा, मैं बुधवार को बहस शुरू करूंगा. जो कुछ बात बचेगी वो गुरुवार को पूरी करूंगा, आपसे भी मेरी यही अपील है. 

कोर्ट ने जमानत टाल दी. अब गुरुवार को फैसला होगा. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें