scorecardresearch
 

कम से कम एक वक्त की रोटी तो मिल सके', UP में Pension के लिए जूझती रिजवाना का दर्द

कम से कम एक वक्त की रोटी तो मिल सके', UP में Pension के लिए जूझती रिजवाना का दर्द

उत्तर प्रदेश में सरकारी व्यवस्था का सच एक बार फिर सबके सामने आया है. राज्य के जल विभाग के कर्मचारियों को महीनें से वेतन नहीं मिला है. कई लोगों को पेंशन भी नहीं मिल रहा है. यूपी जल निगम के रिटायर्ड कर्मचारी आबिद की पत्नी रिजवाना अपने बेटे आसिफ की किडनी का इलाज नहीं करा पाईं. क्योंकि सितंबर के बाद से पेंशन नहीं आई. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 9 फरवरी, 22 फरवरी और फिर 21 मार्च को निर्देश देकर कहा कि तुरंत रुका हुआ वेतन और पेंशन जारी किया जाए. देखें वीडियो.

Trouble mounts for the employees and pensioners of Uttar Pradesh Jal Nigam, as they are not getting funds. The livelihood of the people is in trouble. Pensioner Rizwana couldn't get his son treated, as she is not getting a pension since September 2020. Chief Minister Yogi Adityanath directs three times to release funds. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें