scorecardresearch
 

मुंबई में सीएम आदित्यनाथ, निवेश के लिए उद्योगपतियों को दिया निमंत्रण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन दिनों उत्तर प्रदेश में बड़ा निवेश चाहते हैं और इसी सिलसिले में वह उद्योगपतियों को लगातार निवेश करने का निमंत्रण दे रहे हैं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (ट्विटर) मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (ट्विटर)

मार्च में विशाल जनादेश के साथ उत्तर प्रदेश की कमान संभालने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अब प्रदेश को विकास की राह पर ले जाने के लिए कमर कसते दिख रहे हैं और उनकी कोशिश है कि कई बड़े औद्योगिक निवेश उनके राज्य में हो जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार भी मिले.

प्रदेश सरकार अगले साल लखनऊ में 21-22 फरवरी को 'इन्वेस्टर्स समिट-2018' का आयोजन कर रही है और उसकी पुरजोर कोशिश है कि इस समिट में उसे बड़ी कामयाबी मिले. इस सिलसिले में मुख्यमंत्री आज मुंबई में कई बड़े उद्योगपतियों से मुलाकात कर रहे हैं.

सीएम योगी ने मुंबई के नरीमन प्वाइंट स्थित ट्राइडेंट होटल में यूपी इन्वेस्टर्स समिट-2018 के लिए आयोजित रोड शो में कई बैंकर्स से मुलाकात की और उन्हें राज्य में निवेश का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि बदलते यूपी में आप सभी का स्वागत है. योगी ने कहा, "बदलते यूपी में आप सभी को निमंत्रित करता हूं. यूपी को हम लोगों ने मोदी के मार्गदर्शन से बदलाव करने का मन बना लिया है."

उन्होंने आगे कहा, "जब यूपी की बात आती है तो सभी यही महसूस करते होंगे कि सालभर पहले यूपी का डरावना दृश्य सामने आता था, लेकिन गुजरे 9 महीनों में आपने राज्य में बदलाव महसूस किया होगा." उत्तर प्रदेश में उद्योग लगाने व युवाओं को बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार ने विशेष अभियान शुरू किया है.

प्रदेश सरकार ने औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति, सूचना प्रौद्योगिकी एवं स्टार्ट-अप नीति, एग्रो और खाद्य प्रसंस्करण के संबंध में नीतियां लागू की हैं.

बैंकिंग और वित्तीय संस्थाओं से जुड़े दिग्गजों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने कहा, "मैं यह बात विश्वास के साथ कह सकता हूं कि जो शुरुआती बदलाव दिख रहा है वो बहुत ही सकारात्मक है. और यही विश्वास उद्योगपतियों से लेकर फिल्मी जगत से जुड़े लोगों में बना रहेगा."

उन्होंने कहा, "हमारी सरकार औद्योगिक निवेश एवं रोजगार नीति पर लगातार जोर दे रही है. हम युवाओं के लिए रोजगार बढ़ाने की योजना पर काम कर रहे हैं, जैसे फूड प्रोसेसिंग, एग्रो और खाद्य प्रसंस्करण, डेयरी. हमारी औद्योगिक नीति बहुत ही लुभावनी है और निवेशकों को आकर्षित करने के लिए विशेष योजना पर काम कर रहे हैं."

उन्होंने कहा, 'प्रदेश में खराब कानून-व्यवस्था और लाल फीताशाही से चीजें काफी खराब हो गई थीं, लेकिन हम निवेश को ध्यान में रखते हुए अपराध और भ्रष्टाचार कम करने के लिए जीरो टॉरलेंस को सख्ती से लागू करेंगे. ऐसे कड़े कदम उठाएंगे कि अपराधी परेशान हो जाएंगे. हमने यूपी में एंटी टैरेरिस्ट स्क्वाएड बनाया है. माफियाओं का मुंह तोड़ा है.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें