scorecardresearch
 

दिल्ली के बंगले पर बोले चिराग- डेट बता दें तो उसके एक दिन पहले कर दूंगा खाली

लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने स्पष्ट तौर पर कहा, 'जिस दिन बंगला खाली करने के लिए एक निर्धारित समय मुझे दे दिया जाएगा, उससे ठीक 1 दिन पहले मैं बंगला खाली कर दूंगा.'

LJP नेता चिराग पासवान (फोटो- दीपक कुमार) LJP नेता चिराग पासवान (फोटो- दीपक कुमार)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • स्मृति लगाने को बंगला कब्जा करने के तौर पर न देखेंः चिराग
  • पिछले 31 साल से 12 जनपथ में रह रहे थे रामविलास पासवान
  • अब यह बंगला नए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को आवंटित हो गया

पूर्व केंद्रीय मंत्री और दिवंगत रामविलास पासवान के दिल्ली स्थित 12 जनपथ सरकारी आवास को खाली कराए जाने को लेकर चिराग पासवान ने कहा कि जिस दिन भी मुझे बंगला खाली करने को कहा जाएगा, उससे एक दिन पहले मैं बंगला खाली कर दूंगा.

स्वर्गीय रामविलास पासवान के दिल्ली स्थित 12, जनपथ सरकारी बंगला खाली करने को लेकर जो सियासत तेज है, उसके बीच अब लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान ने स्पष्ट तौर पर कहा, 'जिस दिन बंगला खाली करने के लिए एक निर्धारित समय मुझे दे दिया जाएगा, उससे ठीक 1 दिन पहले मैं बंगला खाली कर दूंगा.'

साथ ही चिराग ने कहा, 'जो लोग कह रहे हैं कि मैं आदरणीय रामविलास पासवान जी की प्रतिमा लगाकर बंगला कब्जा करना चाहता हूं, वे लोग इस बात को समझ लें कि कोई स्मृति लगाने से बंगला कब्जा नहीं कर सकता.' उन्होंने आगे कहा कि मेरे पिता रामविलास पासवान का 50 साल का सियासी सफर रहा है, ऐसे में उनकी स्मृति हर जगह लगेगी और स्मृति लगाने को लोग बंगला कब्जा करने के तौर पर न देखें.

तेजस्वी से मिले चिराग पासवान

तेजस्वी यादव से मुलाकात पर चिराग पासवान ने कहा, 'मैं तेजस्वी यादव को 12 सितंबर को होने वाली अपने पिता की बरखी में आमंत्रित करने के लिए मिला. मैं कल दिल्ली में लालू प्रसाद यादव से भी मिलूंगा. मेरा उद्देश्य उन सभी को श्रद्धांजलि देने के लिए आमंत्रित करना है जिन्होंने उनके साथ काम किया है. मुझे मुख्यमंत्री से भी मिलने की उम्मीद है.'

इससे पहले पिता रामविलास पासवान की पहली बरसी के लिए आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता देने के लिए चिराग आज राबड़ी आवास पर गए और तेजस्वी यादव को निमंत्रित किया.

इसे भी क्लिक करें --- रामविलास पासवान का सरकारी बंगला रेल मंत्री को अलॉट, मां के साथ रह रहे थे चिराग

बंगले पर लगा प्रतिमा और स्मृति बोर्ड 

इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन के बाद दिल्ली के सरकारी आवास 12 जनपथ को खाली करने का आदेश दिया गया था. लेकिन बंगला खाली करने की चर्चा के बीच रामविलास की प्रतिमा स्थापित कर दी गई. घर के अंदर रामविलास पासवान के नाम का स्मृति का बोर्ड भी लगा दिया गया.

हालांकि पिछले दिनों यह बंगला रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव को आवंटित कर दिया गया. रामविलास पासवान को यह बंगला अलॉट था और उनकी मृत्यु के बाद चिराग पासवान अपनी माताजी के साथ अभी भी रहते हैं. पासवान पिछले 31 साल से 12 जनपथ में रह रहे थे. 

शहरी विकास एव आवास मंत्रालय के अधीन directorate of estate ने 14 जुलाई को चिराग पासवान को 12, जनपथ का बंगला खाली करने का नोटिस भेजा था. जिसके बाद उन्होंने बंगला खाली करने के लिए कुछ और मोहलत मांगी थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×