scorecardresearch
 

वाराणसी में PM मोदी ने लॉन्च की ई-बोट, कहा- जिसका कोई नहीं है, उसके लिए ये सरकार है

प्रधानमंत्री ने कहा, 'हम गरीबों को जन धन योजना जैसी स्कीमों से मजबूत बना रहे हैं, ताकि गरीब ही गरीबी को हराए. उस दिशा में काम जारी है.'

X

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वाराणसी के अस्सी घाट पर ई-बोट को लॉन्च किया. खुद प्रधानमंत्री ने ई-वोट की सवारी का भी आनंद लिया.  उन्होंने कहा कि जिसका कोई नहीं है, उसके लिए ये सरकार है.

हर-हर महादेव से शुरू किया संबोधन
मोदी ने वाराणसी के लोगों को संबोध‍ित भी किया. उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत हर-हर महादेव से की और कहा, 'हमारे देश में दुर्भाग्य से वो योजनाएं चलाई गईं, जिससे वोट बैंक मजबूत बनता रहे. यही कारोबार चलता रहा. अगर निशात भाइयों के वोट चाहिए होते थे तो चर्चा होती थी कि डीजल के दाम एक रुपये कम कर दो. इसी तरह की बातें हमेशा चलती रही. लेकिन जब तक हम समस्याओं के जड़ में नहीं जाते और जड़ से समस्याओं का हल करने का प्रयास नहीं करते हैं तो आप चुनाव लड़ते जाएंगे, चुनाव जीतते जाएंगे लेकिन मेरा गरीब और गरीब बनता जाएगा.'

पीएम बोले- गरीब ही गरीबी को हराए
प्रधानमंत्री ने कहा, 'हम गरीबों को जन धन योजना जैसी स्कीमों से मजबूत बना रहे हैं, ताकि गरीब ही गरीबी को हराए. उस दिशा में काम जारी है.' उन्होंने कहा कि अमीरों की गरीबी तो बहुत देखी, कभी गरीबों की अमीरी भी देखा करिए. मोदी ने कहा, 'हमने बैंकों को कहा है कि प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत गरीबों को बिना गारंटी के लोन दिया जाए. आखि‍र ये गरीबों का देश है और बैंक गरीबों के लिए है.

बांटे एक हजार ई-रिक्शा
मोदी बलिया में उज्ज्वला योजना को लॉन्च करने के बाद वाराणसी पहुंचे थे, जहां उन्होंने ई-रिक्शा का वितरण किया. इस दौरान पीएम खुद ई-रिक्शा सवारी करते नजर आए. इसके बाद उन्होंने रिक्शा चालकों के साथ चौपाल लगाते हुए उनकी श‍िकायतों को सुना. इस दौरान इन्होने डीएलडब्ल्यू मैदान में 1000 पैडल रिक्शाचालकों को ई रिक्शा वितरित किए. जिन लोगों को पीएम ने ई-रिक्शा बांटे, वो वाराणसी के स्टेशन पर बुजुर्ग और बीमार लोगों को फ्री में पहुंचाने का काम करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें