scorecardresearch
 

काशी विश्वनाथ के दर्शन जल मार्ग से कर सकते हैं VIP, कमिश्नर ने बैठक में लिया फैसला 

अगर वीआईपी सोमवार के दिन काशी विश्वनाथ धाम में दर्शन पूजन और अभिषेक करने के लिए आना चाह रहे हों तो नमो घाट या अस्सी घाट पर अपने वाहन पार्क कर जल मार्ग से काशी विश्वनाथ धाम आ सकते हैं.

X
फाइल फोटो
फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सावन के सोमवार को लेकर अधिकारियों की बैठक
  • वीआईपी लोगों के दर्शन को लेकर लिया गया फैसला

सावन का पहला सोमवार बीत जाने के बाद वाराणसी जोन के मंडलायुक्त और पुलिस कमिश्नर ने सभी अधिकारियों के साथ काशी विश्वनाथ धाम में एक समीक्षा बैठक की. इस दौरान सभी अधिकारियों ने पहले सोमवार को श्रद्धालुओं के लिए की जाने वाले व्यवस्था के दौरान आने वाली कठिनाइयां और बेहतर व्यवस्था करने को लेकर सुझाव भी लिए. 

समीक्षा बैठक के दौरान मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने कहा कि श्रद्धालुओं की व्यवस्था में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं की जा सकती है. इसलिए अगर वीआईपी सोमवार के दिन काशी विश्वनाथ धाम में दर्शन पूजन और अभिषेक करने के लिए आना चाह रहे हों तो नमो घाट या अस्सी घाट पर अपने वाहन पार्क कर जल मार्ग से काशी विश्वनाथ धाम आ सकते हैं. ऐसे में ना ही श्रद्धालुओं को असुविधा होगी और ना ही किसी प्रकार के आवागमन की परेशानी झेलनी पड़ेगी. 

उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को यह निर्देश देते हुए सावन माह में आने वाले श्रद्धालुओं को अवगत कराने की बात कही. बैठक में पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने बताया कि सावन की व्यवस्था काफी संतोषजनक रही. इसके बाद भी श्रद्धालुओं की सुविधा को और बढ़ाने की आवश्यकता है. पहला सोमवार होने के चलते अभी बहुत कम संख्या में श्रद्धालु काशी विश्वनाथ धाम पहुंचे हैं. पूर्वांचल के बहुत सारे जिले हैं जहां के श्रद्धालु अभी काशी दर्शन के लिए नहीं पहुंच पाए हैं. 

ऐसे में आने वाले तीन सोमवार को श्रद्धालुओं की भीड़ और बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं की बेहतर व्यवस्था के लिए और भी अच्छे इंतजाम किए जाएं. वाराणसी डीएम कौशल राज शर्मा ने मंदिर परिसर में साफ-सफाई और मैटिंग की व्यवस्था को और बेहतर बनाने का निर्देश दिया. मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि करीब साढ़े पांच लाख श्रद्धालुओं ने विश्वनाथ धाम में सोमवार के दिन दर्शन किए हैं. इस दौरान साफ सफाई और अन्य व्यवस्थाएं सही रहीं. उन्होंने गर्मी और बारिश को देखते हुए परिसर में और भी टेंट लगवाने की बात अधिकारियों को बताई. इस मौके पर नगर आयुक्त सहित बड़ी संख्या में अधिकारी उपस्थित रहे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें