scorecardresearch
 

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह बनेंगी दुल्हन, MLA अंगद सैनी से 21 नवंबर को शादी

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह की शादी पंजाब के कांग्रेस विधायक अंगद सैनी से तय हो गई है. यह शादी 21 नवंबर को दिल्ली में होगी. आजतक से बातचीत में खुद अदिति सिंह ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि यह शादी उनके पिता ने तय की थी.

कांग्रेस विधायक अदिति सिंह (Photo-ANI) कांग्रेस विधायक अदिति सिंह (Photo-ANI)

  • दिल्ली में होगी अदिति सिंह और कांग्रेस विधायक अंगद सैनी की शादी
  • सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली से विधायक हैं अदिति सिंह

उत्तर प्रदेश के रायबरेली से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह जल्दी ही शादी के पवित्र बंधन में बंधने जा रही हैं. कांग्रेस विधायक अदिति सिंह की शादी पंजाब के कांग्रेस विधायक अंगद सैनी से तय हो गई है. यह शादी 21 नवंबर को दिल्ली में होगी. इसके बाद 23 नवंबर को रिसेप्शन रखा गया है. आजतक से बातचीत में खुद अदिति सिंह ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि यह शादी उनके पिता ने तय की थी.

अदिति सिंह और अंगद सैनी दोनों के ही परिवार दशकों से राजनीति में हैं. जितने समय से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह का परिवार राजनीति में है, लगभग उतने ही समय से अंगद सैनी का परिवार भी पंजाब की राजनीति में सक्रिय है. अदिति सिंह ने अपनी शादी को लेकर खुशी जाहिर की है. उन्होंने कहा कि वो कांग्रेस विधायक अंगद सैनी के साथ शादी को लकेर बेहद खुश हैं.

बताया जा रहा है कि अदिति सिंह और अंगद सैनी के शादी के कार्ड भी बंट चुके हैं. अदिति सिंह गांधी परिवार के गढ़ माने जाने वाले रायबरेली से आती है. फिलहाल कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी रायबरेली से लोकसभा सांसद हैं. अदिति सिंह पिछले काफी समय से मीडिया की सुर्खियों में हैं.

जब राहुल गांधी से सगाई की फैली थी अफवाह

अदिति सिंह कांग्रेस के बाहुबली नेता रहे अखिलेश सिंह की बेटी हैं. हाल ही में वो तब सुर्खियों में आई थीं, जब राहुल गांधी के साथ उनकी सगाई की अफवाह फैली थी. इसके बाद अदिति सिंह ने राहुल गांधी के साथ सगाई की खबरों का खंडन किया था और उनको अपना भाई बताया था. अदिति सिंह ने कहा था कि राहुल उनके भाई जैसे हैं, वो उनको राखी बांधती हैं.

अदिति सिंह पर हाल ही में हो चुका है हमला

इसके अलावा कुछ दिन पहले अदिति सिंह पर रायबरेली टोल प्लाजा पर हमला हुआ था, जिसके बाद उन्होंने योगी सरकार से सुरक्षा की मांग की थी. इसके बाद राज्य सरकार ने कांग्रेस विधायक अदिति सिंह को वाई प्लस श्रेणी की सुरक्षा प्रदान कर दी थी. इसके अतिरिक्त महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर 2 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश विधानसभा के विशेष सत्र का कांग्रेस ने बहिष्कार किया था, लेकिन अदिति सिंह ने हिस्सा लिया था.

इसके बाद कांग्रेस पार्टी ने अदिति सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया था. इसके अलावा यूपी विधानसभा के विशेष सत्र में हिस्सा लेने को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अदिति सिंह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें