scorecardresearch
 

फेसबुक पर कमेंट से बिगड़ा बरेली का माहौल, आरोपी के घर हमला

बरेली में माहौल बिगाडऩे की साजिश करने वाले असर दिखाने पर आमादा हैं.

बरेली में माहौल बिगाडऩे की साजिश करने वाले असर दिखाने पर आमादा हैं.

यहां के धौराटांडा, दुनका और कराली इलाकों के बाद बुधवार की रात पुराने शहर में भी हालात तनावपूर्ण हो गए. फेसबुक पर धार्मिक भावनाएं भडक़ाने वाली टिप्पणी के बहाने रात करीब साढ़े ग्यारह बजे उग्र भीड़ ने इस मामले में नामजद एक आरोपी के घर पर हमला बोल दिया.

पास में ही एक धर्मस्थल और कुछ खोखे भी उनका निशना बने. फल की एक दुकान की जगह पर भीड़ ने आग भी लगा दी. बता दें कि पुराना शहर के कटरा चांद खां मोहल्ले के एक व्यक्ति ने 28 जुलाई को घेर जाफर खां मोहल्ले के दो लोगों के खिलाफ बारादरी थाने में मुकदमा दर्ज कराया था.

आरोप है कि इन लोगों ने फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी करके समुदाय विशेष के लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है. उन्होंने चेतावनी दी थी कि आरोपियों पर फौरन कार्रवाई न की गई तो शहर के सौहार्द को खतरा पैदा हो सकता है. तहरीर पर रिपोर्ट लिखकर इंस्पेक्टर आरके सिंह ने जांच का आश्वासन दिया.

इस मामले में पुलिस कार्रवाई करती इससे पहले बुधवार की रात साढ़े 11 बजे करीब ढाई सौ लोग सैलानी में एकजुट हो गए. ये लोग एक आरोपी के दरवाजे पर जा पहुंचे. वहां इन्होंने बंद दरवाजे पर लातें मारते हुए गालियां दीं. दरवाजा नहीं खुला तो चौक के धर्मस्थल को निशाना बनाया.

मौके पर फायरिंग की बात कही गई लेकिन वहां ऐसा कोई साक्ष्य न देखकर पुलिस ने इस बात को खारिज कर दिया. लोगों ने करीब पौने बारह बजे पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी. आधे घंटे के अंदर एसपी सिटी, एडीएम सिटी, एडीएमई के साथ कई सीओ और पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए.

एहतियातन फायर ब्रिगेड की गाडि़यां भी मौके पर भेज दी गई थीं. पुलिस के पहुंचने से पहले ही हमलावर फरार हो चुके थे. भागने से पहले भीड़ ने मीरा की पैठ मंडी में आगजनी की भी कोशिश की हालांकि पुलिस के ऐन वक्त पर पहुंचने से हालात बिगडऩे से बच गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें