scorecardresearch
 

मेरठः हत्या के आरोप में जेल में बंद था पति, जिंदा निकली पत्नी

यूपी के मेरठ में हत्या, कातिल, सजा और प्रेम की ऐसी दास्तान सामने आई है, जिसे अगर फिल्मी पर्दे पर उतारा जाए तो यह महेश भट्ट की फिल्मों से भी कहीं ज्यादा बिजनेस करेगी.

Symbolic Image Symbolic Image

यूपी के मेरठ में हत्या, कातिल, सजा और प्रेम की ऐसी दास्तान सामने आई है, जिसे अगर फिल्मी पर्दे पर उतारा जाए तो यह महेश भट्ट की फिल्मों से भी कहीं ज्यादा बिजनेस करेगी. शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र में पुलिस ने हाल ही एक प्रेमी जोड़े को गिरफ्तार किया है. खास बात यह है कि इसमें जिस महिला को गिरफ्तार किया है उसकी हत्या के आरोप में उसके पति समेत चार अन्य को जेल हो चुकी है.

एसएसपी ओंकार सिंह ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि शामली के गांव बंटीखेड़ा निवासी बागजहां का निकाह करीब 14 साल पहले मेरठ जिले के गांव भैसा निवासी इश्त्याक के साथ हुआ था. करीब दो साल पहले बागजहां अचानक गायब हो गई, जिसके बाद उसके भाई नफीस ने पिछले साल 13 मई को मवाना पुलिस में बहन के पति इश्त्याक समेत नौ लोगों के खिलाफ अपहरण और हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी.

मामले में तहरीर के आधार पर पुलिस ने बागजहां के पति इश्त्याक, जेठ दीनी, अश्फाक और हफीज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. यही नहीं, करीब आठ माह पहले पुलिस को किठौर के रजवाहे से एक महिला का सड़ी-गली लाश भी मिली थी. लाश की शि‍नाख्त बागजहां से रूप में की गई और सभी आरोपियों को जेल भेज दिया गया.

और सामने आया 'प्यार में ट्विस्ट'
पुलिस के अनुसार मामले में नाटकीय मोड़ 29 जुलाई को ईद के दिन तब आया, जब बागजहां को उसके ससुराल के एक ग्रामीण ने मेरठ के कोतवाली क्षेत्र में एक व्यक्ति के साथ देखा गया. ग्रामीण ने गांव इस बात की सूचना दी, जिसके बाद बागजहां के ससुराल वाले गांव वालों के साथ पुलिस थाने पहुंच गए. बागजहां के जीवित होने की सूचना पाकर पुलिस का एक दल फौरन मवाना से कोतवाली क्षेत्र पहुंचा, जहां बागजहां के साथ ही उसके कथित प्रेमी फजरू को हिरासत में ले लिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें