scorecardresearch
 

मोदी-शाह के कसीदे, जोशीले समर्थकों को नसीहत, पढ़ें- योगी का पूरा भाषण

मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि विकास के काम में किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा. लेकिन उनकी सरकार किसी का तुष्टिकरण नहीं करेगी. सीएम ने कहा-' पीएम की मंशा है कि शासन का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे. हमारी सरकार में कोई भी व्यक्ति, चाहे वो किसी भी तबके का हो, वंचित महसूस नहीं करेगा.'

X
गोरखपुर में सीएम योगी का पहला भाषण गोरखपुर में सीएम योगी का पहला भाषण

गोरखपुर के एमपी इंटर कॉलेज में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनता को संबोधित किया. ताजपोशी के बाद अपने गढ़ में ये उनकी पहली तकरीर थी.

नमो-मंत्र की दीक्षा!
योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषण की शुरुआत ही नरेंद्र मोदी को दुनिया का सबसे लोकप्रिय नेता बताकर की. पचीस मिनट से ज्यादा के संबोधन में उन्होंने कई बार मोदी के विकास के कामों का जिक्र किया. योगी आदित्यनाथ का कहना था कि गोरखपुर इलाके में फर्टिलाइजर फैक्ट्री और एम्स के निर्माण को मंजूरी देकर प्रधानमंत्री ने पूर्वी भारत में विकास के क्षेत्रीय असंतुलन को दूर करने की कोशिश की है. वो जीत का श्रेय राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति को देना भी नहीं भूले. इसके अलावा उन्होंने ये जिम्मेदारी सौंपने के लिए यूपी की जनता और बीजेपी संसदीय बोर्ड का भी आभार व्यक्त किया.

'विकास सबका, तुष्टिकरण किसी का नहीं'
अपनी सरकार का इरादा गिनाते हुए मुख्यमंत्री ने भरोसा दिलाया कि विकास के काम में किसी के साथ भेदभाव नहीं होगा. लेकिन उनकी सरकार किसी का तुष्टिकरण नहीं करेगी. सीएम ने कहा-' पीएम की मंशा है कि शासन का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे. हमारी सरकार में कोई भी व्यक्ति, चाहे वो किसी भी तबके का हो, वंचित महसूस नहीं करेगा.' हालांकि भाषण के अंत में मुख्यमंत्री ने ऐलान किया कि कैलाश-मानसरोवर की यात्रा के लिए उनकी सरकार 1 लाख रुपये की मदद देगी. साथ ही गाजियाबाद, लखनऊ या नोएडा में किसी जगह मानसरोवर भवन बनाया जाएगा. 

'छत्तीसगढ़ का मॉडल अपनाएंगे'
मुख्यमंत्री ने बताया कि उनकी सरकार खाद्य सुरक्षा में छत्तीसगढ़ के मॉडल को अपनाने जा रही है. इसके लिए उन्होंने 2 मंत्रियों और 4 अधिकारियों की टीम को छत्तीसगढ़ भेजा है. अपने भाषण में योगी ने कई बार राज्य से बेरोजगारों का पलायन रोकने और किसानों-मजदूरों के लिए काम करने का वायदा दोहराया.

'महिला सुरक्षा है प्राथमिकता'
योगी आदित्यनाथ ने दोहराया कि वो राज्य को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने के लिए हर मुमकिन कोशिश करेंगे. इसी संदर्भ में उन्होंने एटी-रोमियो दस्ते बनाने की पहल का भी जिक्र किया. योगी के मुताबिक उन्होंने निर्देश दिया है कि ये दस्ते किसी बेगुनाह को तंग ना करें. उन्होंने साफ किया कि महिलाओं की सुरक्षा की जवाबदेही स्थानीय प्रशासन को उठानी होगी.

'जोश में ना गंवाए होश'
योगी ने कहा कि उनके समर्थक जीत में दंभ में ना आएं तो जोश में होश खोकर ऐसे लोगों को मौका ना दें जो यूपी में अमन नहीं चाहते. योगी ने कहा, 'ये केवल एक पद नहीं है बल्कि एक कर्तव्य है..पीएम का नेतृत्व सदैव हमारा मार्गदर्शन करता है..ये मात्र एक पद नहीं कि हम अधिकारों की धौंस जताएं बल्कि ये हमें जिम्मेदार बनाता है.'

'अवैध कत्लखाने बर्दाश्त नहीं'
योगी आदित्यनाथ ने साफ किया कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने भी राज्य में अवैध बूचड़खाने बंद करने को कहा है. उन्होंने कहा कि सरकार वैध कत्लखानों को नहीं छेड़ेगी लेकिन जन स्वास्थ्य से खिलवाड़ करने वाले अवैध बूचड़खाने बर्दाश्त नहीं होंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें