scorecardresearch
 

प्रियंका का आरोप- कानून व्यवस्था पर झूठी बयानबाजी कर रही योगी सरकार

उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना सामने आने के बाद यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि कल बीजेपी सरकार का बयान था यूपी में सब ठीक है. आज एक बयान और आया, लेकिन कानून व्यवस्था के बारे में झूठी बयानबाजी व झूठा प्रचार करने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री और यूपी सरकार की ही है.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा

  • मुख्यमंत्री का हरसंभव सरकारी मदद देने का आश्वासन
  • आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश, 5 गिरफ्तार
  • 4 घंटे के अंदर उन्नाव केस पर प्रियंका ने किए 2 ट्वीट

उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना सामने आने के बाद यूपी की कानून व्यवस्था पर फिर से सवाल उठने लगे हैं. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट के जरिए राज्य सरकार पर हमला करते हुए कहा कि कल बीजेपी सरकार का बयान था कि यूपी में सब ठीक है. आज एक बयान और आया, लेकिन कानून व्यवस्था के बारे में झूठी बयानबाजी और झूठा प्रचार करने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री और यूपी सरकार की ही है.

उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाकर मार देने की घटना पर पिछले 4 घंटों के अंदर प्रियंका गांधी वाड्रा ने 2 ट्वीट करते हुए सरकार पर हमला बोला है. अपने दूसरे ट्वीट में प्रियंका गांधी ने कहा कि उन्नाव पीड़िता के स्वास्थ्य समाचार से मन आहत है. ईश्वर से प्रार्थना है कि पीड़िता जल्द स्वस्थ हो. कल भाजपा सरकार का बयान था यूपी में सब ठीक है. आज एक बयान और आया, लेकिन कानून व्यवस्था के बारे में झूठी बयानबाजी और झूठा प्रचार करने की जिम्मेदारी CM और यूपी सरकार की ही है.

इससे पहले उन्नाव में युवती को जलाकर मार देने की खबर आते ही प्रियंका ने ट्वीट करते हुए कहा था कि कल देश के गृह मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने साफ-साफ झूठ बोला कि यूपी की क़ानून व्यवस्था अच्छी हो चुकी है. हर रोज ऐसी घटनाओं को देखकर मन में रोष होता है. भाजपा नेताओं को भी अब फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए.

weets_120519030129.png

CM ने की अधिकारियों से रिपोर्ट तलब

दूसरी ओर, उन्नाव में रेप पीड़िता को जलाने के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गुरुवार को अधिकारियों से रिपोर्ट तलब की है. सीएम योगी ने शुक्रवार शाम तक रिपोर्ट मांगी है. साथ ही सीएम योगी ने यह आदेश भी दिया कि पीड़िता को सरकारी खर्च के लिए हर संभव मदद दी जाए. कमिश्नर और आईजी को घटनास्थल का मुआयना करने के लिए भेजा गया है.

राज्य सरकार ने आरोपियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है. इस मामले में पांचों आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. पीड़िता की हालत गंभीर है और उसे राजधानी के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें