scorecardresearch
 

कार एक्सिडेंट में उन्नाव रेप पीड़िता गंभीर, चाची और मौसी की मौत, ट्रक ने मारी टक्कर

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में रविवार को एक सड़क दुर्घटना में उन्नाव रेप पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई. इस हादसे में पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई. गंभीर रूप से घायल उन्नाव की रेप पीड़िता को लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया. ये वही रेप पीड़िता है जिस मामले में उन्नाव के बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर आरोपी हैं.

ट्रक और कार की आमने-सामने भिड़ंत (फोटो-शिवेंद्र श्रीवास्तव) ट्रक और कार की आमने-सामने भिड़ंत (फोटो-शिवेंद्र श्रीवास्तव)

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में रविवार को एक सड़क दुर्घटना में उन्नाव रेप पीड़िता गंभीर रूप से घायल हो गई. इस हादसे में पीड़िता की चाची और मौसी की मौत हो गई. गंभीर रूप से घायल उन्नाव की रेप पीड़िता को लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया. ये वही रेप पीड़िता है जिस मामले में उन्नाव के बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर आरोपी हैं.

सूचना के मुताबिक उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के चाचा जेल में बंद हैं. चाचा से मिलने के लिए पीड़िता, उसकी मां, मौसी, चाची और वकील रायबरेली जेल जा रहे थे. इसी दौरान एक ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी. इसमें कार में सवार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. हादसे की स्थिति को वाहनों की टक्कर से भी समझा जा सकता है.

हादसे के बाद गंभीर रूप से घायलों को लखनऊ के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया. यह हादसा रायबरेली के अतरुआ गांव में हुआ है. घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची.पुलिस ने घायलों को फौरन अस्पताल भेजा. इस बीच, समाजवादी पार्टी के एमएलसी उदयवीर और सुनील साजन गंभीर रूप से घायल रेप पीड़िता से मिलने पहुंचे.

जांच में जुटी पुलिस

हादसे की जानकारी मिलते ही लखनऊ रेंज के आईजी ने मौके पर फोरेंसिक टीम भेज दी है. पुलिस ने बताया कि ट्रक ड्राइवर और मालिक पकड़ा गया है, जो फतेहपुर का रहने वाला है. वहीं 'आज तक' से रेप पीड़िता की बहन ने विधायक पर आरोप लगाया कि MLA के आदमियों ने घटना को अंजाम दिया है.

accident-unnao_072819061706.jpgदुर्घटनाग्रस्त कार और ट्रक

गौरतलब है कि इसी पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उन्नाव के बांगरमऊ से विधायक कुलदीप सेंगर ने उसके साथ 4 जून, 2017 को अपने आवास पर दुष्कर्म किया, जहां वह अपने एक रिश्तेदार के साथ नौकरी मांगने के लिए गई थी.

कुलदीप के खिलाफ उन्नाव के माखी थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 363, 366, 376, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था. शासन ने इस आदेश में इस पूरे मामले की जांच सीबीआई से कराने की अनुशंसा की थी, जिसे एजेंसी ने स्वीकार कर लिया था.

बता दें कि कुलदीप सेंगर बांगरमऊ से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक हैं. सेंगर उन्नाव के चर्चित दुष्कर्म मामले के आरोपी हैं. कुलदीप उन्नाव के अलग-अलग विधानसभा सीटों से चार बार से लगातार विधायक हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें