scorecardresearch
 

रेप आरोपी BJP विधायक बोले- बच्ची के पीछे कोई और, दोषी साबित होने पर फांसी दे देना

पीड़िता के आरोप पर जब 'आजतक' ने सवाल पूछा तो विधायक सिंगर ने फोन पर कहा, 'ये जो बच्ची कह रही है वो किसी के बहकावे में आकर कर रही है. ये मेरे राजनीतिक करियर को खत्म करने की साजिश है. मेरे काम करने के तरीके सब जानते हैं. हमने अपनी पूरी जिंदगी में कोई गलत काम नहीं किया है.'

आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर

उन्नाव की रहने वाली 18 वर्षीय एक युवती ने बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर और उनके भाइयों पर पिछले साल गैंगरेप का आरोप लगाया था. अदालत के आदेश पर इस मामले में मुकदमा दर्ज किया गया. और अब मामला मीडिया में मामला आने के बाद विधायक के भाई को गिरफ्तार कर लिया गया है.

इस बीच 'आजतक' ने आरोपी विधायक से संपर्क किया. 'आजतक' से बातचीत में विधायक ने कहा कि उन्हें राजनीति साजिश के तहत फंसाया जा रहा है. जिस वक्त 'आजतक' ने विधायक से फोन पर बात की उस दौरान पीड़िता भी चैनल पर लाइव थीं.

पीड़िता के आरोप पर जब 'आजतक' ने सवाल पूछा तो विधायक सेंगर ने फोन पर कहा, 'ये जो बच्ची कह रही है वो किसी के बहकावे में आकर कर रही है. ये मेरे राजनीतिक करियर को खत्म करने की साजिश है. मेरे काम करने का तरीका सब जानते हैं. हमने अपनी पूरी जिंदगी में कोई गलत काम नहीं किया है.'

आरोपी विधायक ने कहा, 'किसी से भी जांच करवा लीजिए. चाहे देश की सबसे बड़ी एजेंसी से जांच करवा लीजिए, अगर में दोषी पाया जाता हूं तो मुझे फांसी पर लटका दिया जाए. ये राजनीतिक साजिश के तहत मेरे खिलाफ मीडिया ट्रायल हो रहा है और मैं अपील करता हूं कि इससे मुझे बचाया जाए.'

जब उनसे पूछा गया कि आखिर वजह क्या है और एक साल से क्यों नहीं इस मामले में कोई कार्रवाई हुई? इस पर सेंगर ने कहा कि इस बिटिया की मां ने 20 अगस्त को थाने में केस दर्ज कराया. आप जांच करा लीजिए इस बिटिया को कौन उकसा रहा है और कौन इसके पीछे है.

विधायक से पूछा गया कि आखिर इस बच्ची का क्या गुनाह है? तो विधायक ने कहा, 'मेरा दोष इतना है कि इसके चाचा सती सिंह और नदी सिंह को गलत तरीके से फंसा रहे थे. इनको और इनके चाचा को शक है कि हमने सती सिंह और नदी सिंह को बचाने का काम किया है. मैंने साफ-सुथरी राजनीति की है. हमने अगर किसी की मदद की है तो अच्छे उद्देश्य से की. हमारी सरकार का नारा है 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' और हम इस उदेश्य के साथ काम करते हैं.'

गौरतलब है कि पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ 4 जून 2017 को बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर और उनके साथियों ने गैंगरेप किया था. एक महिला विधायक के पास उसे लेकर गई थी. उन्होंने बीजेपी विधायक से रेप का विरोध किया, तो उसने परिवार वालों को मारने की धमकी दी और अब उसके पिता को इन लोगों ने पीट-पीट कर मार डाला.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें