scorecardresearch
 

UP: पराली जलाने पर नहीं लग रही लगाम, कई जिलों में किसानों पर FIR दर्ज

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी ने बढ़ते वायु प्रदूषण को रोकने के लिए एडवाइजरी जारी की थी. इसमें कहा गया था कि पराली को जलाने से रोकने को लेकर जो निर्देश जारी किए गए हैं उनका कड़ाई से अनुपालन कराया जाए.

पंजाब में पराली जलाता एक शख्स (फाइल फोटो) पंजाब में पराली जलाता एक शख्स (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी में पराली जलाने की घटना जारी
  • हार्वेस्टर से फसलों की कटाई पर रोक
  • 1 रुपये किलो पराली खरीद रही सरकार

सुप्रीम कोर्ट की स्पष्ट गाइडलाइन है कि फसल के कटने के बाद पराली को कतई ना जलाया जाए. इसके लिए तमाम तरह के नियम और कानून भी बनाए गए हैं. लेकिन बावजूद इसके उत्तर प्रदेश में पिछले कुछ दिनों में पराली जलाने के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. सहारनपुर, शाहजहांपुर, मेरठ, अलीगढ़ और पीलीभीत से पराली जलाने के मामले लगातार सामने आ रहे हैं.

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव आरके तिवारी ने बढ़ते वायु प्रदूषण को रोकने के लिए एडवाइजरी जारी की थी. इसमें कहा गया था कि फसल के अवशेषों को जलाने से रोकने को लेकर जो निर्देश जारी किए गए हैं उनका कड़ाई से अनुपालन कराया जाए. सूबे के सभी जिलाधिकारियों को एक आदेश जारी किया गया था, जिसमें मुख्य सचिव ने इस बात का जिक्र किया था कि सैटेलाइट से प्राप्त जानकारी के अनुसार सूबे में अभी भी पराली जलाई जा रही है.

हार्वेस्टर से कटाई पर रोक

मुख्य सचिव ने इस बात का निर्देश दिया है कि हार्वेस्टर से कटाई न कराई जाए और अगर कोई भी हार्वेस्टर कटाई करते हुए मिले तो उसे जब्त किया जाए. साथ ही साथ राजस्व विभाग के कर्मचारियों को भी अपने अपने क्षेत्र में नजर रखने के लिए निर्देशित किया गया है. एडवाइजरी में स्पष्ट रूप से कहा गया है कि प्रदेश में जहां भी पराली जलाने के संबंधित घटना संज्ञान में आती है तो तत्काल संबंधित व्यक्ति के विरुद्ध कार्रवाई की जाए. यही नहीं इस मामले में गांव स्तर पर ग्राम प्रधान की भी जिम्मेदारी तय की जाए और कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाए.

सहारनपुर जिलें में 13 किसानों के खिलाफ FIR

सहारनपुर जिलें में पराली जलाते पाए जाने पर अब तक 13 किसानों के खिलाफ FIR दर्ज किया गया है और उनसे  जुर्माने के रूप में 47 हजार रुपये की वसूली भी की गई है.

देखें: आजतक LIVE TV

100 रुपये क्विटंल पराली खरीद रही सरकार

सहारनपुर के जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने कहा कि बेकार पराली को सरकार 100 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीद भी रही है.

इधर पराली जलाने को लेकर पीलीभीत में भी दो दर्जन किसानों पर कार्रवाई की गई है. साथ ही 4 टैक्टर को भी सीज किया गया है, सभी मुकदमे क्षेत्रीय लेखपाल की शिकायत पर दर्ज किए गए हैं. 

लखीमपुर में 20 मामले

लखीमपुर में अब तक पराली जलाने के 20 मामले सामने आए हैं.लखीमपुर खीरी जिले के डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने  बताया कि पिछले 2 महीने में पराली जलाने की अब तक 20 घटनाएं सामने आ चुकी है. इन मामलों में केस दर्ज किया गया है और जुर्माना वसूला गया है. 

शाहजहांपुर जिला प्रशासन ने पराली जलाने वाले 13 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की है. शाहजहापुर के कृषि उप निदेशक आनंद कुमार त्रिपाठी का कहना है कि अभी तक उनके पास 24 घटनाएं आई है. इनमें पराली को लेकर 13 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है. जबकि 11 घटनाएं कूड़ा जलाने की है. 

अलीगढ़ जनपद में भी पराली जलाने के मामले सामने आए हैं. यहां के  कृषि निदेशक अनिल कुमार ने बताया कि अभी तक कुल 11 एफआईआर दर्ज किए जा चुके हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें