scorecardresearch
 

नोएडा में लगेगा माइक्रोसॉफ्ट का बड़ा प्रोजेक्ट, 10 हजार IT प्रोफेशनल को मिलेगी नौकरी

माइक्रोसॉफ्ट ने नोएडा में सेक्टर 145 में 60 हज़ार स्क्वायर मीटर के बड़े भूखंड ए-1 और ए-2 खरीदे हैं. इस जमीन की कीमत करीब 103 करोड रुपए है. माइक्रोसॉफ्ट इस प्रोजेक्ट में करीब 10 हज़ार लोगों को नौकरी मिलेगी. माइक्रोसॉफ्ट की ओर से नोएडा में निवेश को लेकर काफी दिनों से बातचीत चल रही थी. 

नोएडा में लगेगा माइक्रोसॉफ्ट का प्रोजेक्ट नोएडा में लगेगा माइक्रोसॉफ्ट का प्रोजेक्ट
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नोएडा में माइक्रोसॉफ्ट का प्रोजेक्ट
  • हजारों लोगों को मिलेगी नौकरी

दिल्ली-एनसीआर के आईटी प्रोफेशनल के लिए एक अच्छी खबर है. दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनी माइक्रोसॉफ्ट नोएडा में अपना प्रोजेक्ट लेकर आ गई है. माइक्रोसॉफ्ट ने नोएडा विकास प्राधिकरण में 60 हज़ार वर्ग मीटर जमीन के लिए आवेदन किया था, जिसका आवंटन कर दिया गया है. ऐसा माना जा रहा है कि दो  वर्षों में इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा.
 
आपको बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट ने नोएडा में सेक्टर 145 में 60 हज़ार स्क्वायर मीटर के बड़े भूखंड ए-1 और ए-2 खरीदे हैं. इस जमीन की कीमत करीब 103 करोड रुपए है. माइक्रोसॉफ्ट इस प्रोजेक्ट में करीब 10 हज़ार लोगों को नौकरी मिलेगी. माइक्रोसॉफ्ट की ओर से नोएडा में निवेश को लेकर काफी दिनों से बातचीत चल रही थी. 

इसमें कंप्यूटर साइंस, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी और मैनेजमेंट से जुड़े तमाम लोग नौकरियों के लिए आवेदन कर सकेंगे. माइक्रोसॉफ्ट आईटी, आईटीएस और आईटी इनेबल सर्विसेज के लिए यहां काम करेगी. बताया जा रहा है कि यह माइक्रोसॉफ्ट का भारत में सबसे बड़ा प्रोजेक्ट होगा. 

दरअसल, नोएडा अथॉरिटी ने कुछ खास शर्तों के आधार पर माइक्रोसॉफ्ट को जमीन मुहैया कराई है. पॉलिसी के तहत 40 फ़ीसदी आवंटन राशि माइक्रोसॉफ्ट को 1 महीने के अंदर जमा करनी होगी, जबकि बाकी की 7 फ़ीसदी माइक्रोसॉफ्ट 86 हिस्सों में दे सकेगा. इस पर‍ियोजना को पूरा करने के लिए 5 साल का समय प्राधिकरण देगा. 

कहा जा रहा है कि माइक्रोसॉफ्ट के नोएडा में प्रोजेक्ट लगाने से सॉफ्टवेयर क्षेत्र की दूसरी कंपनियां भी नोएडा की तरफ आकर्षित होंगी. ऐसे में लोगों को रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें