scorecardresearch
 

उपचुनाव में जीत पर अखिलेश को चाचा की बधाई, 'साझी जमीन' के सफल होने की कामना

शिवपाल यादव ने गुरुवार को ट्वीट किया कि 'समाजवादी पार्टी की ऐतिहासिक विजय पर फूलपुर एवं गोरखपुर संसदीय क्षेत्र की जनता, समाजवादी पार्टी के कुशल नेतृत्व, कर्मठ कार्यकर्ताओं एवं विजयी प्रत्याशियों को बहुत-बहुत बधाई.

X
फाइल फोटो फाइल फोटो

गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी के समर्थन से समाजवादी पार्टी को ऐतिहासिक जीत मिली है. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भी इस जीत के लिए मायावती को बधाई दी और उनसे जाकर मुलाकात की.

अखिलेश यादव को इस जीत के लिए उनके चाचा शिवपाल की ओर से भी बधाई मिली है. शिवपाल यादव ने गुरुवार को ट्वीट किया कि 'समाजवादी पार्टी की ऐतिहासिक विजय पर फूलपुर एवं गोरखपुर संसदीय क्षेत्र की जनता, समाजवादी पार्टी के कुशल नेतृत्व, कर्मठ कार्यकर्ताओं एवं विजयी प्रत्याशियों को बहुत-बहुत बधाई.

उन्होंने लिखा कि कड़ी मेहनत व सामाजिक न्याय की साझी जमीन पर लिखी गई यह खूबसूरत कहानी मील का पत्थर साबित हो, ऐसी मंगल कामना.

गौरतलब है कि विधानसभा चुनावों के दौरान से ही अखिलेश-शिवपाल के रिश्ते ठीक नहीं रहे थे. इसके बावजूद ऐतिहासिक जीत के बाद शिवपाल ने पार्टी के नेतृत्व की तारीफ की. साथ ही उन्होंने अपने ट्वीट में साझी जमीन (बसपा का साथ) फैसले का भी स्वागत किया. दूसरी ओर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने इस जीत का श्रेय जनता और कार्यकर्ताओं को दिया है. 

जम गई बुआ-बबुआ की जोड़ी!

उपचुनाव में जीत के बाद अखिलेश यादव ने मायावती से मुलाकात भी की. अखिलेश यादव ने सबसे पहले इस जीत के लिए मायावती का शुक्रिया अदा करते हुए उन्हें धन्यवाद दिया. इसके बाद आगे की रणनीति पर भी उनकी चर्चा हुई. दोनों के बीच इस गठबंधन को आगे बढ़ाने और 2019 में गठबंधन के साथ-साथ सीटों पर भी सहमति बनाने पर चर्चा हुई.

नतीजों के बाद दोनों पार्टियों के बीच 2019 के लिए गठबंधन बनने के सवाल पर समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव ने स्पष्ट टिप्पणी तो नहीं की, लेकिन उन्होंने इतना जरूर कहा कि 'इस बारे में इंतजार करना चाहिए.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें