scorecardresearch
 

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या आने पर पुरजोर विरोध करेगी आरपीआई

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आठवले) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या आने पर उनका पुरजोर विरोध करने की बात कही है. आरपीआई (आठवले) के प्रदेश अध्यक्ष पवन भाई गुप्ता ने शनिवार को अयोध्या दौरे के दौरान साधू-संतों से मुलाकात की.

पवन भाई गुप्ता ने अयोध्या के साधू-संतों से मुलाकात की पवन भाई गुप्ता ने अयोध्या के साधू-संतों से मुलाकात की
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आरपीआई ने किया उद्धव की अयोध्या यात्रा का विरोध करने का ऐलान
  • आरपीआई (आठवले) के प्रदेश अध्यक्ष ने अयोध्या में की इसकी घोषणा
  • अयोध्या में साधू-संतों से मुलाकात के बाद प्रदेश अध्यक्ष ने किया ऐलान

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आठवले) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के अयोध्या आने पर उनका पुरजोर विरोध करने की बात कही है. आरपीआई (आठवले) के प्रदेश अध्यक्ष पवन भाई गुप्ता ने शनिवार को अयोध्या दौरे के दौरान साधू-संतों से मुलाकात की. इस दौरान संतों ने पालघर में साधुओं की हत्या की सीबीआई जांच की मांग की. जिस पर प्रदेश अध्यक्ष पवन भाई गुप्ता ने संतों की हत्या की सीबीआई जांच के लिए संघर्ष करने की बात कही.

उन्होंने कहा कि जिस तरह से महाराष्ट्र में संतों की हत्या के बाद सरकार का रवैया रहा है, वह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है. हम इस मामले को सड़क से संसद तक उठाएंगे. इसके साथ ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को लेकर श्री राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के बयान पर आरपीआई ने पलटवार किया है.

रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आ.) के प्रदेश अध्यक्ष पवन भाई गुप्ता ने कहा कि चंपत राय का बयान अयोध्या के साधू-संतों का अपमान है. उनका बयान भगवान श्रीराम जन्मभूमि की गरिमा के विपरीत है. अयोध्या के साधू-संत पूजनीय हैं. उन्होंने राममंदिर निर्माण के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया. उनके सम्मान को ठेस किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

पवन भाई गुप्ता ने कहा कि बाबा साहब डॉ भीमराव आंबेडकर ने हमेशा नारी सम्मान और सशक्तिकरण पर बल दिया. जिस तरह से महाराष्ट्र सरकार ने फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत पर बदले की भावना से कार्रवाई की, वह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण एवं निंदनीय है. महाराष्ट्र सरकार ने नारी अस्मिता के खिलाफ जाकर ये घटिया कदम उठाया. आरपीआई (आ.) ने पूरी मुखरता से साथ महाराष्ट्र सरकार के इस कदम का विरोध किया. मुंबई एयरपोर्ट पर आरपीआई के कार्यकर्ताओं ने पहुंचकर कंगना रनौत को सुरक्षा प्रदान की.

गुप्ता ने कहा कि हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय मंत्री डॉ रामदास आठवले ने कंगना मामले में महाराष्ट्र के राज्यपाल से भी मुलाकात की. साथ ही उनके नेतृत्व में आरपीआई के एक-एक कार्यकर्ता ने नारी अस्मिता की रक्षा के लिए लड़ाई लड़ी.

गुप्ता ने चंपत राय के उस बयान पर, जिसमें उन्होंने कहा था कि किसकी मां ने इतना दूध पिलाया है जो उद्धव ठाकरे को अयोध्या आने से रोके, पर कहा कि आरपीआई साधू-संतों के साथ है. साधू-संत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का अगर अयोध्या आने का विरोध कर रहे हैं तो आरपीआई का पूर्ण समर्थन है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें