scorecardresearch
 

Lakhimpur Kheri Incident: आखिरकार मानी योगी सरकार, राहुल और प्रियंका गांधी को लखीमपुर जाने की इजाजत

लखीमपुर खीरी कांड पर सियासी जंग के बीच बड़ी खबर आई है. अब राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और अन्य तीन लोगों को लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत दे दी गई है.

X
राहुल गांधी और प्रियंका गांधी लखीमपुर जा सकेंगे (फाइल फोटो) राहुल गांधी और प्रियंका गांधी लखीमपुर जा सकेंगे (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • योगी सरकार ने राजनीतिक पार्टियों को लखीमपुर जाने की इजाजत दी
  • प्रत्येक पार्टी के पांच-पांच लोग लखीमपुर जा सकते हैं

Lakhimpur Kheri Incident: लखीमपुर खीरी कांड पर सियासी जंग के बीच बड़ी खबर आई है. अब योगी सरकार ने राजनीतिक दलों को लखीमपुर खीरी जाने की इजाजत दे दी है. किसी भी पार्टी के 5-5 लोग लखीमपुर जा सकते हैं. ऐसे में अब राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और उनके साथ 5 लोग भी लखीमपुर जा सकेंगे. इसके अलावा आम आदमी पार्टी (AAP) के नेता संजय सिंह भी पांच लोगों के साथ लखीमपुर जा सकते हैं, उनको भी इजाजत मिल गई है.

अब राहुल गांधी समेत 5 लोग लखीमपुर में दो पीड़ित परिवारों से मिलेंगे. इस दौरान किसी तरह की सभा करने की इजाजत नहीं होगी. एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर), प्रशांत कुमार ने बताया कि शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पाबंदियां लगाई गई थीं, जिनको अब हटा लिया गया है. अब राजनीतिक दल लखीमपुर जा सकते हैं.

बता दें कि राहुल गांधी फ्लाइट से लखनऊ पहुंच रहे हैं. वह वहां से लखीमपुर खीरी जाएंगे. लेकिन बीच में वह सीतापुर में रुकेंगे. वहीं प्रियंका गांधी को सीतापुर के गेस्ट हाउस में गिरफ्तार करके रखा गया है.

इससे पहले रविवार को लखीमपुर में 4 किसानों समेत 8 लोगों की मौत के बाद प्रशासन ने लखीमपुर खीरी में धारा 144 लगा दी थी. किसान संगठनों के अलावा किसी पार्टी के नेता को वहां जाने की इजाजत नहीं दी जा रही थी. प्रियंका गांधी, अखिलेश यादव, संजय सिंह आदि ने लखीमपुर जाने की कोशिश की थी. लेकिन उनको अलग-अलग जगह हिरासत में ले लिया गया था. बाद में प्रियंका को सीतापुर में ही गिरफ्तार करके रखा गया था.

राहुल ने कहा था - दो लोगों के साथ जाना चाहता हूं

आज राहुल गांधी के लखीमपुर जाने के ऐलान के बाद लखनऊ में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई थी. दरअसल, राहुल ने लखीमपुर जाने के लिए दिल्ली से लखनऊ की फ्लाइट पकड़ी थी. लखनऊ से उन्होंने लखीमपुर जाने की बात कही थी. वहीं प्रशासन ने कहा था कि राहुल को लखनऊ से आगे नहीं जाने दिया जाएगा. इसके पीछे लॉ एंड ऑर्डर का हवाला दिया गया था. लेकिन अब राहुल गांधी को लखनऊ में नहीं रोका जाएगा. इससे पहले राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा था कि धारा 144 का उल्लंघन तब होता जब पांच लोगों से ज्यादा लेकर लखीमपुर जा रहे होते. लेकिन वह तो दो लोगों (पंजाब और छत्तीसगढ़ सीएम) के साथ लखीमपुर जाना चाहते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें