scorecardresearch
 

महोबा में व्यापारी की हत्या पर प्रियंका ने यूपी सरकार को घेरा, बोलीं- अफसर सुपारी दिलवा रहे

प्रियंका गांधी ने कहा है कि महोबा के व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी की हत्या पूरी यूपी सरकार की कार्यशैली पर सवाल है. बीजेपी सरकार में अपराध और भ्रष्टाचार चरम पर है, और अब इस सरकार के अफसर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों की सुपारी दिलवा रहे हैं. जंगलराज का भयावह रूप है ये.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (फोटो-PTI) कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महोबा में एक व्यापारी की गोली लगने से मौत
  • व्यापारी ने एसपी के खिलाफ की थी शिकायत
  • अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर उठाए सवाल

उत्तर प्रदेश में लचर कानून व्यवस्था को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लगाता योगी आदित्यनाथ की सरकार पर सवाल खड़े कर रही हैं. प्रियंका गांधी ने महोबा में एक व्यापारी की हत्या को लेकर योगी सरकार को घेरा है.

प्रियंका गांधी ने ट्वीट किया, महोबा के व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी की हत्या पूरी यूपी सरकार की कार्यशैली पर सवाल है. बीजेपी सरकार में अपराध और भ्रष्टाचार चरम पर है, और अब इस सरकार के अफसर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों की सुपारी दिलवा रहे हैं. जंगलराज का भयावह रूप है ये.'

वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, महोबा के ‘इंद्रकांत त्रिपाठी सरकारी हत्याकांड’ में दिखावटी सस्पेंशन की लीपापोती न करके सरकार गिरफ़्तारी करे. आरोपित पुलिस कप्तान व डीएम के ख़िलाफ़ इतनी ढिलाई क्यों? पुलिस किस अधिकार से जन प्रतिनिधियों को जनता से मिलने व उनके मुद्दे उठाने से रोक रही है?

 

इस बीच, महोबा जिले में व्यापारी इंद्रकांत त्रिपाठी के अंतिम संस्कार के बाद अपर एसपी वीरेंद्र कुमार के बर्ताव से सोमवार को माहौल बदल गया. एसपी वीरेंद्र कुमार अंतिम संस्कार से लौटे कुछ लोगों को थाने ले जाकर पूछताछ करना चाहते थे. 

इसके बाद व्यापारी के परिजनों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी. इस दौरान आक्रोशित परिजनों, सैकड़ों नागरिकों ने 2 सब इंस्पेक्टर का घेराव किया. सैकड़ों समर्थकों के साथ व्यापारियों ने थाने को कूच कर दिया. 

बता दें कि महोबा के एसपी मणिलाल पाटीदार द्वारा कथित रूप से रिश्वत मांगने के बाद गोली लगने से घायल व्यापारी इंद्रजीत की कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में मौत हो गई थी. व्यापारी ने ही एसपी द्वारा घूस मांगे जाने का वीडियो वायरल किया था, जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एसपी मणिलाल पाटीदार को सस्पेंड कर दिया था.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें