scorecardresearch
 

PM Modi in Aligarh: अलीगढ़ के मुस्लिम ताले वाले थे मेरे पिता जी के दोस्त...PM मोदी ने सुनाया किस्सा

PM Modi in Aligarh: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलीगढ़ में अपने बचपन का किस्सा सुनाया. उन्होंने कहा कि अलीगढ़ के एक ताले वाले उनके पिता के दोस्ते थे.

अलीगढ़ में पीएम मोदी ने यूनिवर्सिटी और डिफेंस कॉरिडोर का शिलान्यास किया अलीगढ़ में पीएम मोदी ने यूनिवर्सिटी और डिफेंस कॉरिडोर का शिलान्यास किया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीएम मोदी ने अलीगढ़ में एक यूनिवर्सिटी और डिफेंस कॉरिडोर का शिलान्यास किया
  • पीएम मोदी ने यहां अपने बचपन का एक किस्सा भी सुनाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया. इस मौके पर जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने अलीगढ़ के एक मुस्लिम ताले वाले का भी जिक्र किया, जो उनके पिता के दोस्त हुआ करते थे.

अलीगढ़ में अपने बचपन का किस्सा सुनाते हुए पीएम नरेंद्र मोदी बोले, 'अलीगढ़ से ताले के मुस्लिम सेल्समैन हर तीन महीने में हमारे गांव आते थे. अभी भी मुझे याद है कि वह काली जैकेट पहनकर आते थे. सेल्समैन होने के नाते हर तीन महीने में वो आते थे. उनकी मेरे पिताजी से अच्छी दोस्ती थी. आते थे तो दो-चार दिन गांव में रुकते भी थे. आसपास के गांव में भी व्यापार करते थे. वो जो पैसे दूसरे दुकानदारों से वसूल करके लाते थे उनको मेरे पिता के पास छोड़ देते थे. मेरे पिताजी उनके पैसों को संभालते थे. फिर जब वो गांव छोड़कर जाते थे तब अपने पैसे ले जाते थे.'

मोदी बोले - बचपन में ही सुन लिया था सीतापुर और अलीगढ़ का नाम

पीएम मोदी ने कहा, 'बचपन में ही सीतापुर और अलीगढ़ का नाम सुन लिया था. किसी को आंख की बीमारी होती थी तो इलाज के लिए लोग कहते थे कि सीतापुर जाओ. वहीं अलीगढ़ का नाम इन महाशय (पिता के दोस्त) की वजह से सुन लिया था.' मोदी ने कहा कि अभी तक लोग अपने मकान और दुकान की सुरक्षा के लिए अलीगढ़ के ताले के भरोसे रहते थे. अब अलीगढ़ के हथियार देश की सीमाओं की रक्षा करेंगे. यहां पीएम मोदी डिफेंस कॉरिडोर का जिक्र कर रहे थे, जिसका उन्होंने शिलान्यास किया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को अलीगढ़ दौरे पर पहुंचे. यहां पीएम मोदी ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी के मॉडल का जायजा लिया और यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया. इसके अलावा डिफेंस कॉरिडोर का भी शिलान्यास किया गया.

राजा महेंद्र प्रताप सिंह स्टेट यूनिवर्सिटी 97.27 एकड़ भूमि पर बनेगी. इसका प्लान भी जारी कर दिया गया है. अभी पहली किस्त के तौर पर 10 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं. दो साल के भीतर जनवरी 2023 तक ये परियोजना पूरी हो जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें