scorecardresearch
 

नोएडा: एक्सीडेंट के बाद घायल ने खुद किया पुलिस को फोन, 'मुझे बचा लीजिए, यहां कोई नहीं'

एक्सीडेंट के बाद गंभीर घायल होने के बाद भी शख्स की हिम्मत ने उसकी जान बचा ली. खून से लथपथ पड़े शख्स ने खुद ही पुलिस को फोन किया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है. 

एक्सीडेंट के बाद घायल ने खुद किया पुलिस को फोन एक्सीडेंट के बाद घायल ने खुद किया पुलिस को फोन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर हुआ एक्सीडेंट
  • पीआरवी ने मौके पर पहुंच बचाई शख्स की जान

उत्तर प्रदेश के नोएडा में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर एक शख्स का जबरदस्त एक्सीडेंट हो गया. वो लहूलुहान हालत में सड़क पर पड़ा हुआ था. उसके आसपास कोई नहीं थी, जो उसकी मदद कर सके. इस शख्स ने हिम्मत नहीं हारी. उसने अपने मोबाइल से पुलिस को फोन किया और मदद की गुहार लगाई. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने उसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया. 

पीआरवी ने दिखाई तत्परता 
नोएडा के ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे पर एक शख्स का एक्सीडेंट हो गया. उसने अपने मोबाइल से पुलिस को फोन किया. ये कॉल नोएडा की पीआरवी 1271 को इवेन्ट नंबर-0989 पर आई, जिसमें काॅलर जगदीश प्रसाद ने बेहद घबराई हालत में बताया कि पैरिफेरल हाइवे पर एनटीपीसी शाहपुर के पास उनकी स्कूटी का एक्सीडेन्ट हो गया है. आसपास कोई सहायता भी नहीं है. 

मदद करने वाला कोई नहीं
इस सूचना पर पीआरवी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने मौके की ओर दौड़ लगा दी. कुछ ही समय में पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए, जहां जगदीश प्रसाद खून से लथपथ पड़े हुए थे. हैरान कर देने वाली बात तो ये थी, इस मार्ग से बड़ी संख्या में लोग गुजरते हैं, लेकिन जगदीश की मदद करने वाला कोई नहीं था.  

अस्पताल में कराया भर्ती 
पुलिसकर्मियों ने आनन-फानन में पीआरवी में बैठाकर पास के ही अस्पताल में भर्ती कराया. एक्सीडेंट में जगदीश प्रसाद का सिर फट गया था. इसके बाद पुलिस ने जगदीश के परिजनों को सूचना दी. जगदीश गाजियाबाद के रहने वाले हैं, जो किसी काम ये यहां आए थे, रास्ते में उनका एक्सीडेंट हो गया. वहीं जगदीश की शिकायत के आधार पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें