scorecardresearch
 

राहुल गांधी को विपक्ष का चेहरा बनाए जाने को तैयार नहीं हैं मुलायम

गुजरात चुनाव में बीजेपी को मुलायम का परोक्ष साथ दिया है. उन्होंने कहा है कि सभी सपा कैंडिडेट हार जाएंगे. मुलायम का बयान ऐसे समय में आया है जब अखिलेश गुजरात में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. मुलायम के इस बयान से सहमी पार्टी ने चुप्पी साध ली है.

मुलायम सिंह (फाइल फोटो) मुलायम सिंह (फाइल फोटो)

राहुल गांधी भले ही कांग्रेस के अध्यक्ष बन जाए मगर 2019 में विपक्ष का चेहरा होंगे या नहीं इस पर अब भी संशय बरकरार है. शनिवार को इटावा में मुलायम सिंह यादव ने लालू यादव के इस बयान से पल्ला झाड़ लिया कि 2019 में राहुल गांधी पूरे विपक्ष का चेहरा होंगे. मुलायम ने कहा वह इस फॉर्मूले से सहमत नहीं हैं.

मुलायम अपने बेटे अखिलेश यादव से भी कई मामलों में फिर नाराज नजर आए और गुजरात में अपने कैंडिडेट के हार की भविष्यवाणी कर दी. उन्होंने दावा किया कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा गुजरात विधानसभा चुनाव में खड़े किए गए सभी उम्मीदवार पराजित होंगे.

उन्होंने कहा कि अखिलेश ने उत्तर प्रदेश के पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन का गलत फैसला लिया और इसकी उन्हें कीमत चुकानी पड़ी.

गुजरात चुनाव में बीजेपी को मुलायम ने परोक्ष रूप से साथ दिया है. उन्होंने कहा है कि सभी सपा कैंडिडेट हार जाएंगे. मुलायम का बयान ऐसे समय में आया है जब अखिलेश गुजरात में चुनाव प्रचार कर रहे हैं. मुलायम के इस बयान से सहमी पार्टी ने चुप्पी साध ली है.

मुलायम ने सीधे-सीधे बीजेपी की जीत पर तो कुछ नहीं कहा लेकिन इतना जरूर कहा कि इंतजार करिए नतीजा जल्दी आप सबके सामने होगा. उन्होंने कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर द्वारा PM मोदी को नीच कहे जाने को बेहद आपत्तिजनक और गलत बताया. साथ ही यह भी कहा कि हमारी पार्टी में अय्यर होते तो सिर्फ निलंबित ही नहीं करते उन्हें पार्टी से भी निकाल देते.

हाल के दिनों में पिता-पुत्र के बीच रिश्तों पर जमी बर्फ पिघलती दिखी थी जब मुलायम सिंह के जन्मदिन पर पार्टी कार्यालय में अखिलेश यादव ने न सिर्फ बड़ा कार्यक्रम किया था बल्कि उन्हें सार्वजनिक तौर पर बधाई भी दी थी. मुलायम सिंह ने भी बेटे से गिले-शिकवे दूर करने की बात कही थी मगर मुलायम सिंह के इस बोल से एक बार फिर पार्टी सकते में है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें