scorecardresearch
 

मनीष गुप्ता की पत्नी ने लिया KDA में OSD का चार्ज, पति को याद कर फूट-फूटकर रोईं मीनाक्षी

मनीष की गोरखपुर में पुलिस कर्मियों ने पीट पीटकर हत्या कर दी थी. जिस पर विपक्ष ने काफी हंगामा मचाया था. हंगामे के बाद खुद सीएम योगी ने कानपुर में मीनाक्षी से मुलाकात करके चालीस लाख की आर्थिक सहायता और केडीए में ओएसडी की नौकरी देने का वादा किया था. साथ ही मनीष का केस भी कानपुर एसआईटी को ट्रांसफर किया था. 

मृतक मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी मृतक मनीष गुप्ता की पत्नी मीनाक्षी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मीनाक्षी ने ज्वाइन की नौकरी
  • सीएम से लगाई केस ट्रांसफर की गुहार

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में पुलिसिया बर्बरता का शिकार हुए कानपुर के युवक मनीष गुप्ता की पत्नी को सरकारी नौकरी मिल गई है. कानपुर में मंगलवार को पति की याद में रोते हुए मनीष की पत्नी ने नौकरी ज्वाइन कर ली. सूबे की योगी सरकार ने पति की हत्या के चलते सरकार की तरफ से कानपुर केडीए (KDA) में ओएसडी (OSD) पद पर नौकरी दी है.

गौरतलब है कि मनीष की गोरखपुर में पुलिस कर्मियों ने पीट पीटकर हत्या कर दी थी. जिस पर विपक्ष ने काफी हंगामा मचाया था. हंगामे के बाद खुद सीएम योगी ने कानपुर में मीनाक्षी से मुलाकात करके चालीस लाख की आर्थिक सहायता और केडीए में ओएसडी की नौकरी देने का वादा किया था. साथ ही मनीष का केस भी कानपुर एसआईटी को ट्रांसफर किया था. 

 

आज मनीष की हत्या के पंद्रह दिन के भीतर ही मीनाक्षी की केडीए में ओएसडी के पद पर ज्वाइनिंग भी हो गयी है. नौकरी ज्वाइन करते समय मीनाक्षी, पति की यादों में अपने आसुओं को रोक नहीं पाई और वहां फूट फूटकर रोईं. मीनाक्षी अपने भाई सौरभ और रंजीत सिंह के साथ नौकरी ज्वाइन करने पहुंची थीं. खुद केडीए वीसी अरविन्द सिंह ने उनकी ज्वाइनिंग कराई. केडीए में मीनाक्षी के लिए सेकेंड फ्लोर पर 206 नंबर कमरा दिया गया है.  

 

मीनाक्षी ने नौकरी ज्वाइन करते हुए कहा कि सीएम साहब अब मेरी इतनी हेल्प और कर दें कि मेरा केस ट्रायल गोरखपुर से कानपुर ट्रांसफर कर दें,  तो सब ठीक हो जाए.  केडीए वीसी अरविन्द सिंह का कहना है कि मीनाक्षी को हमारी तरफ से पूरा सहयोग मिलेगा. सीएम साहब के निर्देश पर उनकी जल्दी से जल्दी ज्वाइनिंग कराई गई है. अब वो हमारे केडीए परिवार की सदस्य हैं. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें