scorecardresearch
 

यूपी की सियासत महिला सुरक्षा पर आई, बीएसपी ने याद दिलाई मायावती सरकार की सख्ती

पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने कांशीराम का एक पुराना वीडियो ट्वीट किया है. इस वीडियो में कांशीराम मायावती की सरकार बनते ही एक लाख 45 हजार लोगों के खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत की गई कार्रवाई की चर्चा करते दिख रहे हैं.

मायावती (फाइल फोटो) मायावती (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आकाश आनंद ने ट्वीट किया कांशीराम का वीडियो
  • लिखा- मायावती की सरकार में सबसे सुरक्षित था यूपी

उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में कुछ ही महीने बचे हैं. जैसे-जैसे चुनाव करीब आता जा रहा है, सियासी दल अपने-अपने कार्ड खेलने में जुट गए हैं. पहले जातीय समीकरण साधने के लिए सियासी दलों ने अपने-अपने तरकश से तीर निकाले तो अब फोकस महिलाओं पर आता दिख रहा है. आधी आबादी को साधने के लिए पहले प्रियंका गांधी ने 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने का ऐलान किया.

प्रियंका के ऐलान के जवाब में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने मिशन शक्ति संवाद शुरू किया है. अब महिलाओं को साधने के संघर्ष में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी उतर आई है. बसपा के कोऑर्डिनेटर आकाश आनंद ने ट्वीट कर मायावती सरकार में महिलाओं की सुरक्षा के लिए उठाए गए सख्त कदमों की याद दिलाई है.

पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के भतीजे आकाश आनंद ने कांशीराम का एक पुराना वीडियो ट्वीट किया है. इस वीडियो में कांशीराम मायावती की सरकार बनते ही एक लाख 45 हजार लोगों के खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत की गई कार्रवाई की चर्चा करते दिख रहे हैं. कांशीराम इस वीडियो में कह रहे हैं कि एक महिला ने महिलाओं के साथ अन्याय रोकने के लिए मजबूती के साथ सरकार चलाई.

इस वीडियो को ट्वीट करते हुए आकाश आनंद ने लिखा है कि उत्तर प्रदेश आज अपराध प्रदेश बन चुका है जहां गुंडों और अपराधियों को खुली छूट मिल चुकी है. उन्होंने आगे लिखा है कि मान्यवर कांशीरामजी के इस भाषण को सुनिए जिससे आपको खुद एहसास हो जाएगा कि उत्तर प्रदेश सबसे सुरक्षित सिर्फ और सिर्फ मायावती के शासनकाल में ही रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें