scorecardresearch
 

प्रियंका के नारे पर BJP का पलटवार- लड़की तो लड़ लेगी, लेकिन आपकी पार्टी के गुंडों का क्या?

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) के नारे 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' को लेकर यूपी बीजेपी (UP BJP) ने पलटवार किया है. बीजेपी ने वीडियो ट्वीट करके कहा कि लड़की तो लड़ लेगी लेकिन कांग्रेस के गुंडों का क्या जो पार्टी के सिरमौर बने हुए हैं?

Congress general secretary Priyanka Gandhi Vadra Congress general secretary Priyanka Gandhi Vadra
स्टोरी हाइलाइट्स
  • प्रियंका गांधी के नारे पर बीजेपी ने किया वीडियो ट्वीट
  • कहा- लड़की तो लड़ लेगी, लेकिन आपकी पार्टी के गुंडों का क्या

उत्तर प्रदेश बीजेपी (Uttar Pradesh BJP) ने प्रियंका गांधी वाड्रा की प्रेस कॉन्फ्रेंस पर एक वीडियो ट्वीट करके कांग्रेस को ढोंगी पार्टी बताया है. दरअसल, प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने मंगलवार को लखनऊ में एक प्रेस वार्ता की, जिसमें उन्होंने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने की बात कही. साथ ही इस दौरान उन्होंने 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' का नारा भी दिया, जिसे लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. बीजेपी ने अपने वीडियो ट्वीट पर लिखा, ''लड़की तो लड़ लेगी, लेकिन आपकी पार्टी के गुंडों का क्या जो कांग्रेस के सिरमौर बने हैं?''

इस वीडियो ट्वीट में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर भी यूपी बीजेपी ने कांग्रेस को बुरी तरह घेरा. प्रियंका ने कहा था कि महिलाओं की सुरक्षा कोई नहीं करने वाला. सब बातें करते हैं. सुरक्षा करने का जब समय आता है तो सुरक्षा उनकी होती है जो आपको कुचलते हैं. इस पर बीजेपी ने लिखा कि कांग्रेस की कार्यशैली के बारे में आपने सही कहा प्रियंका जी.

एक वाक्या का उदाहरण देते हुए यूपी बीजेपी ने लिखा कि साल 2020 में देवरिया में कुछ ऐसा ही हुआ था, जिसमें एक कांग्रेस नेत्री तारा यादव ने एक दुष्कर्म के आरोपी को यूपी उपचुनाव का टिकट देने का विरोध किया था. और बदले में कांग्रेस के कई नेताओं ने उन्हें बेरहमी से पीटा था. और बदले में उन पर ही मुकदमा भी कर दिया था.

 

वहीं, बीएसपी चीफ मायावती ने भी कहा, ''कांग्रेस जब सत्ता में होती है और इनके अच्छे दिन होते हैं तो इनको दलित, पिछड़े व महिलाएं आदि याद नहीं आतीं. किन्तु अब जब इनके बुरे दिन नहीं हट रहे हैं तो पंजाब में दलित की तरह यूपी में इनको महिलाएं याद आई हैं. और उन्हें 40 प्रतिशत टिकट देने की घोषणा इनकी कोरी चुनावी नाटकबाजी शुरू हो गई है.''

उन्होंने कहा, ''महिलाओं के प्रति कांग्रेस की चिन्ता अगर इतनी ही वाजिब व ईमानदार होती तो केन्द्र में इनकी सरकार ने संसद व विधानसभाओं में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने का कानून क्यों नहीं बनाया? कांग्रेस का स्वभाव है 'कहना कुछ व करना कुछ’ जो इनकी नीयत व नीति पर प्रश्नचिन्ह खड़े करता है.'

बता दें, लखनऊ में हुई प्रेस वार्ता में प्रियंका गांधी ने यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर 40 फीसदी टिकट महिलाओं को देने का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि मेरा बस चलता तो मैं 50 फीसदी टिकट महिलाओं को देती. लेकिन हो सकता है कि उससे अगले चुनावों में ऐसा हो. प्रियंका ने यह भी कहा कि महिलाओं को टिकट जाति के आधार पर नहीं, बल्कि उनकी क्षमता के आधार पर दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि महिलाएं राजनीति में पूरी तरह से सत्ता में भागीदार बनें.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×