scorecardresearch
 

वरुण गांधी को नहीं मिली कैबिनेट में जगह, मेनका बोलीं- कितनों को जगह देंगे PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में नई टीम ने काम भी करना शुरू कर दिया है. उम्मीद जताई जा रही थी कि इस कैबिनेट विस्तार में उत्तर प्रदेश से वरुण गांधी को भी जगह मिल सकती है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. अब इसी पर पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी का बयान सामने आया है. 

X
पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केंद्रीय कैबिनेट के विस्तार पर मेनका का बयान
  • वरुण के कैबिनेट में शामिल होने की थी चर्चा

केंद्रीय कैबिनेट का विस्तार (Modi Cabinet Expansion) हो गया है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में नई टीम ने काम भी करना शुरू कर दिया है. उम्मीद जताई जा रही थी कि इस कैबिनेट विस्तार में उत्तर प्रदेश से वरुण गांधी को भी जगह मिल सकती है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. अब इसी पर पूर्व केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी का बयान सामने आया है. 

मेनका गांधी (Maneka Gandhi) का कहना है कि हम 600-650 के करीब सांसद हैं, ऐसे में प्रधानमंत्री कितनों को जगह देंगे. जिनको भी जगह मिली है, वह अच्छा है. बता दें कि मेनका गांधी अपने दो दिवसीय दौरे पर सुल्तानपुर पहुंची थीं, जहां उन्होंने ये बयान दिया. 

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में मेनका गांधी के पास बाल-विकास मंत्रालय था, लेकिन दूसरे कार्यकाल में उन्हें मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली थी. 

कुछ वक्त बाद उत्तर प्रदेश का विधानसभा चुनाव होना है, ऐसे में कयास लगाए जा रहे थे कि वरुण गांधी को इस बार मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है. लेकिन ऐसा नहीं हुआ, हालांकि जिन नए मंत्रियों ने शपथ ली है उनमें से सात यूपी से ही ताल्लुक रखते हैं.


कई मसलों पर मेनका गांधी ने की बात

सांसद मेनका गांधी ने यहां विकास भवन में बैठक की, जिसके बाद मीडिया से बात करते हुए मेनका गांधी ने कहा कि जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में लोगों ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर वोट किया, ये बहुत खुशी की बात है. सभी ने एक अच्छे इंसान को वोट किया है और हमें उम्मीद है कि हमारी नई जिला पंचायत अध्यक्ष क्षेत्र के लिए और अच्छा करेंगी. मेनका गांधी ने कहा कि पिछली दफा भी उनको पुरस्कार मिला था कि उत्तर प्रदेश में सबसे अच्छी जिला परिषद की अध्यक्ष रही.

प्राइवेट स्कूलों द्वारा वसूली जा रही फीस को लेकर भी मेनका गांधी ने कहा कि उन्होंने जिलाधिकारी से बात की है कि अगर इसमें कुछ राहत मिलती है, तो परिजनों के लिए काफी अच्छी बात होगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें