scorecardresearch
 

राम मंदिर से पहले बनकर तैयार हो जाएगा PM मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट- काशी विश्वनाथ कॉरिडोर

खास बात यह है कि जहां राम मंदिर का कार्य 2023 में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है तो वहीं विश्वनाथ कॉरिडोर 2021 नवंबर में ही पूरा हो जाएगा. कॉरिडोर में मुख्य मार्गों के अलावा गंगा व्यू कैफे दी बनाने की योजना प्रस्तावित है, जहां दर्शन को आने वाले श्रद्धालु कुछ वक्त बिताकर लजीज और सात्विक भोजन का लुत्फ उठा पाएंगे.

राम मंदिर से पहले काशी विश्वनाथ कॉरिडोर राम मंदिर से पहले काशी विश्वनाथ कॉरिडोर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राम मंदिर से पहले काशी विश्वनाथ कॉरिडोर
  • 15 नवंबर तक कॉरिडोर तैयार होगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर या विश्वनाथ धाम उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में इसी वर्ष 15 नवंबर तक पूर्ण हो जाएगा. इतना ही नहीं विधानसभा चुनाव 2022 के पहले तमाम अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस कॉरिडोर का भव्य उद्घाटन भी करके जनता को समर्पित किया जाएगा.

राम मंदिर से पहले काशी विश्वनाथ कॉरिडोर?

खास बात यह है कि जहां राम मंदिर का कार्य 2023 में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है तो वहीं विश्वनाथ कॉरिडोर 2021 नवंबर में ही पूरा हो जाएगा. कॉरिडोर में मुख्य मार्गों के अलावा गंगा व्यू कैफे दी बनाने की योजना प्रस्तावित है, जहां दर्शन को आने वाले श्रद्धालु कुछ वक्त बिताकर लजीज और सात्विक भोजन का लुत्फ उठा पाएंगे.

काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर या विश्वनाथ धाम के निर्माण की प्रगति के बारे में मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील वर्मा ने बताया कि श्री काशी विश्वनाथ मंदिर के सुंदरीकरण और विस्तारीकरण की परियोजना गतिमान है. वर्तमान में 60% से ऊपर का काम हो चुका है. इस परियोजना में जितने भी भवन बनने थे वे बन चुके हैं और अभी सिर्फ सुंदरीकरण का कार्य चल रहा है. इस प्रोजेक्ट में मुख्य आकर्षण मंदिर परिसर और चौक एरिया है. चौक एरिया में ही ऑफिस के साथ ही बड़े-बड़े इंपोरियम भी हैं. यहां पर प्रदर्शनी और अन्य चीजें लगेंगी.

क्या खास इंतजाम होंगे?

इसके अलावा वाराणसी गैलरी, म्यूजियम और कॉरिडोर के दोनों तरफ बिल्डिंग में दुकान, टूरिस्ट फैसिलिटी सेंटर और यात्री सुविधा केंद्र की भी व्यवस्था रहेगी. इसके अलावा कई अन्य प्रस्तावित कार्य भी हैं जिसके पूरा हो जाने पर एक बढ़िया से स्वरूप निखर कर सामने आएगा. कॉरिडोर को बनाने का लक्ष्य 15 नवंबर तक का रखा गया है. इसके लिए प्रयास किया जा रहा है कि समय पर कार्य हो जाए.

15 नवंबर तक कॉरिडोर तैयार होगा

मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील वर्मा ने बताया कि काशी विश्वनाथ मंदिर कॉरिडोर या विश्वनाथ धाम प्रोजेक्ट 50260 वर्ग मीटर एरिया में फैला हुआ है. इसमें मुख्य रूप से 24 भवन बन रहे हैं. जनरल एरिया डेवलपमेंट के अलावा अन्य चीजें भी हैं. यह पूरा प्रोजेक्ट 339 करोड़ का है. जिसमें ज्यादातर सिविल वर्क कंप्लीट हो गया है. जिसके चलते उम्मीद है कि 15 नवंबर तक कॉरिडोर का कार्य पूर्ण हो जाएगा.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें