scorecardresearch
 

कानपुर हादसा: तालाब में डूबी ट्रैक्टर-ट्रॉली, मच गई चीख पुकार... और मौत के मुंह में समा गए 11 बच्चों समेत 26 श्रद्धालु

कानपुर में हुए सड़क हादसे में 26 लोगों की मौत हो गई. श्रद्धालू जिस ट्रैक्टर ट्रॉली से चंद्रिका देवी मंदिर से दर्शन कर लौट रहे थे वो अनियंत्रित होकर तालाब में पलट गई जिससे कई लोग ट्रॉली के नीचे आ गए. कई घायलों की हालत गंभीर है.

X
कानपुर में बड़ा सड़क हादसा
कानपुर में बड़ा सड़क हादसा

कानपुर में हुए भयावह सड़क हादसे में कई परिवारों की खुशियां चंद मिनटों में मातम में बदल गईं. फतेहपुर के चंद्रिका देवी मंदिर के दर्शन कर खुशी-खुशी घर लौट रहे कई परिवार के लोग मौत के मुंह में समा गए. ट्रैक्टर-ट्रॉली के पलटने से हुए हादसे में 26 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं.

कानपुर के जिलाधिकारी विशाखजी ने 26 श्रद्धालुओं की मौत हो जाने की पुष्टि की है. उन्होंने कहा है कि घायलों का उपचार चल रहा है. कानपुर के डीएम ने हादसे की जांच का भी ऐलान किया है. वहीं, देर रात तक मौके पर राहत और बचाव कार्य जारी रहा. राहत और बचाव कार्य के लिए राज्य आपदा मोचन बल यानी एसडीआरएफ के जवानों की मदद ली गई.

कानपुर पुलिस ने राहत और बचाव कार्य को लेकर ट्वीट कर कहा कि पुलिस प्रशासन के साथ ही पीएसी और एसडीआरएफ रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे हुए हैं. कानपुर के पुलिस कमिश्नर ने अस्पताल पहुंचकर हादसे में घायलों का हाल जाना और उपचार के लिए व्यवस्था का भी जायजा लिया है.

यूपी पुलिस की ओर से ट्वीट कर ये भी कहा गया है कि पुलिस मुख्यालय के वरिष्ठ अधिकारी लगातार कानपुर के पुलिस अधिकारियों के संपर्क में हैं. पुलिस मुख्यालय के अधिकारी राहत और बचाव कार्यों की निगरानी कर रहे हैं. एडीजी जोन, आईजी रेंज और एसपी कानपुर प्रशासन के साथ घायलों और उनके परिजनों की मदद कर रहे हैं. यूपी पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर जारी करते हुए कहा है कि किसी भी तरह की जानकारी के लिए 9454404916 पर संपर्क किया जा सकता है.

बताया जा रहा है कि श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर तालाब में पलट गई जिसके बाद उसमें सवार ज्यादातर लोग उसके नीचे दब गए. इस हादसे में मरने वालों में 11 महिलाएं शामिल हैं जबकि 11 बच्चों का जीववन भी इस हादसे की भेंट चढ़ गया. वहीं गंभीर रूप से घायल चार बच्चों को कानपुर रेफर किया गया है.

50 से ज्यादा घायल

बता दें कि यह घटना कानपुर के घाटमपुर इलाके में हुई है. ये लोग चंद्रिका देवी के दर्शन करके लौट रहे थे. इस घटना में 50 से ज्यादा लोगों के घायल होने की भी सूचना है. जैसे ही इसकी सूचना पुलिस प्रशासन को मिली, अधिकारियों ने तुरंत वहां पहुंचकर राहत का काम शुरू कर दिया. घायलों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया जा रहा है.

घटना को लेकर कानपुर जोन के एडीजी भानु भास्कर ने कहा कि अभी कुछ कहना मुश्किल है, जांच रिपोर्ट के बाद भी हम कुछ कह पाएंगे. घटना की सूचना मिलने के बाद कानपुर रेंज के आईजी प्रशांत कुमार भी मौके पर पहुंच गए हैं. कानपुर में इस हृदयविदारक घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ ही भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और यूपी के परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने भी दुख जताया है.

पीएम मोदी ने घटना के बाद ट्वीट के जरिए कहा, 'कानपुर में ट्रैक्टर-ट्रॉली दुर्घटना से व्यथित हूं, मेरी संवेदनाएं उन सभी लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपनों को खोया है. घायलों के लिए प्रार्थना, स्थानीय प्रशासन प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है.

मुआवजे का ऐलान

वहीं पीएमओ ने हर मृतक के परिजन को पीएमएनआरएफ फंड से 2 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है जबकि घायलों को  50 हजार रुपये की मदद दी जाएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें