scorecardresearch
 

जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की खासियत एविएशन मंत्री सिंधिया ने बताईं, बोले- 2025 तक देश में होंगे 220 एयरपोर्ट

जेवर एयरपोर्ट का गुरुवार को पीएम मोदी शिलान्‍यास करेंगे. यह एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा. जिससे 1 लाख लोगों को रोजगार के मौके मिलेंगे. आखिर ये एयरपोर्ट किन मायनों में खास है, जानें.

सांकेतिक फोटो सांकेतिक फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जेवर एयरपोर्ट का गुरुवार को होगा शिलान्‍यास
  • एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा
  • पीएम मोदी करेंगे एयरपोर्ट का शिलान्‍यास

Jewar airport/ Noida International Airport: जेवर एयरपोर्ट के शिलान्‍यास को लेकर (Jewar Airport inauguration date) केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ( Jyotiraditya Scindia) ने बातचीत की. उन्‍होंने कहा कि ये यूपी ही नहीं बल्कि पूरे भारत के लिए ड्रीम प्रोजेक्‍ट होगा. एक बार जब ये एयरपोर्ट शुरू हो जाएगा तो लोगों को इससे रोजगार के मौके भी मिलेंगे. वहीं आर्थिक गतिविधियां भी तेजी से बढ़ेंगी. 

उन्‍होंने कहा कि पिछले तीन सालों में इलाके में खूब निवेश हुआ है. 200 करोड़ डॉलर से ज्‍यादा का निवेश अब तक हो चुका है. सिंधिया ने आगे बताया कि हमारा फोकस है कि इलाके में 60 हजार करोड़ रुपए तक का निवेश जेवर और इसके आसपास हो सके. सिंधिया ने ये भी कहा कि जेवर एयरपोर्ट के कारण 1 लाख रोजगार के अवसर पैदा होंगे. वह बोले, प्रदेश में जहां पहले केवल पिछले 70 सालों में 2 एयरपोर्ट थे. वह पिछले 7 सालों में बढ़कर 9 हो गए हैं. जेवर एयरपोर्ट 10वां एयरपोर्ट होगा. जिसकी आधारशिला पीएम मोदी रखने जा रहे हैं. अगले पांच सालों में यूपी में 10 से बढ़कर 17 एयरपोर्ट होंगे. अयोध्‍या अंतरराष्‍ट्रीय हवाई अड्डे का भी आने वाले समय में उद्घाटन होगा. जेवर एयरपोर्ट का गुरुवार को पीएम मोदी शिलान्‍यास करेंगे. यह एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा. 

2025 तक 220 एयरपोर्ट, सिंधिया का दावा 
केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कहा कि पिछले सात सालों में पीएम मोदी के निर्देशन में 62 नए एयरपोर्ट जुड़े हैं. ये अब 74 से बढ़कर 136 हो गए हैं. जो पिछले 70 सालों में केवल 74 थे. 2025 तक देश में कुल मिलाकर 220 एयरपोर्ट होंगे. एयरपोर्ट के अलावा हेलीकॉप्‍टर, सीपोर्ट, सी-प्‍लेन भी शुरू होंगे. 

प्रियंका गांधी पर भी बोले 
प्रियंका गांधी और विपक्ष द्वारा आलोचना होने पर सिंधिया बोले कि कुछ लोगों की नकरात्‍मक आदत होती है. यह सच है कि जेवर एयरपोर्ट का सपना 16 से 17 सालों में पूरा हो रहा है. लेकिन ये भी ध्‍यान रखना होगा कि इसका सबसे पहले इसे बनाने का आइडिया तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री राजनाथ सिंह ने ही दिया था. 15-16 सालों तक फाइल घूमती रहीं. लेकिन जब पीएम मोदी 2014 में सत्‍ता में आस तो पीएम मोदी ने इस ओर ध्‍यान दिया. 2017 में जब प्रदेश में योगी सरकार बनी तो डबल इंजन सरकार ने सपने को हकीकत में बदल दिया. 
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें