scorecardresearch
 

धर्म परिवर्तन की मंशा से युवती का बनवाया पासपोर्ट, विदेश में बेचने की साजिश का आरोप

युवती का आरोप है कि उसकी शादी तय हुई तो नईम ने रुखसती नाम से उसका पासपोर्ट लड़के को भेज दिया जिसमें उसे नईम की पत्नी बताया गया है. इसके बाद लड़के वालों ने रिश्ता तोड़ दिया.

X
पासपोर्ट (फाइल फोटो) पासपोर्ट (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • युवती के साथ ही पढ़ता था आरोपी युवक
  • पासपोर्ट भेज काट दी युवती की शादी

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में एक युवती का नाम बदलकर पासपोर्ट बनवाकर नौकरी के लिए खाड़ी देश भेजने के लिए दबाव बनाए जाने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है. पीड़िता ने एडिशनल एसपी के पास पहुंचकर धर्म परिवर्तन की मन्शा से किए गए इस कार्य की जानकारी दी और न्याय की गुहार लगाई. एडिशनल एसपी डॉक्टर संजय ने पीड़िता को कार्रवाई का भरोसा दिलाते हुए वापस घर भेज दिया.

जानकारी के मुताबिक जौनपुर जिले में एक लड़की का पासपोर्ट रुखसती नाम से जारी हुआ है, उस लड़की ने खुद का नाम कुछ और बताया है. युवती ने अपने ही गांव के एक अल्पसंख्यक युवक पर उसे विदेश ले जाकर बेचने की उद्देश्य से फर्जीवाड़ा कर बहला-फुसला के धर्म परिवर्तन कराने की मन्शा से रुखसती नाम से पासपोर्ट बनवाने का आरोप लगाया है. घटना जौनपुर जिले के सरपतहां थाना क्षेत्र के मित्तूपुर गांव का है.

आरोप है कि गांव का ही रहने वाला नईम, युवती के साथ पढ़ता था. पढ़ाई के दौरान ही दोनों में नजदीकियां बढ़ीं. आरोप के मुताबिक उसकी गरीबी का फायदा उठाते हुए नईम ने उसे विदेश में नौकरी दिलाने का सपना दिखाया. युवती को विदेश में नौकरी दिलाने के लिए उसे पासपोर्ट की जरूरत थी. नईम ने उसका पासपोर्ट तो बनवाया लेकिन असली नाम नहीं, रुखसती के नाम से. पासपोर्ट में रुखसती को नईम की पत्नी बताया गया. रुखसती के नाम से पासपोर्ट बनवाने के लिए नईम ने कई तरह के फर्जीवाड़े किए.

ऐसे बना दूसरे नाम से पासपोर्ट

पहले युवती का रुखसती के नाम से आजमगढ़ जिले के फूलपुर तहसील स्थित अपनी ससुराल के पते से जाति प्रमाण पत्र और वोटर आईडी कार्ड बनवाया. उसके बाद उसी आधार पर साल 2015 में पासपोर्ट बनवा दिया. पासपोर्ट बनवाने के लिए युवती भी उसके साथ गई और पासपोर्ट ऑफिस के भीतर नकाब में उसकी फोटो भी ली गई. जांच में सरपतहां थाने से उसे रुखसती बताकर रिपोर्ट भी लग गई. पुलिस ने रुखसती को नईम की पत्नी बताते हुए रिपोर्ट भी जिला मुख्यालय को प्रेषित कर दिया. इतना ही नहीं, स्थानीय अभिसूचना इकाई (LIU) ने भी रिपोर्ट लगा दिया कि जिस लड़की ने पासपोर्ट के लिए आवेदन किया है वो रुखसती है और मित्तूपुर गांव की रहने वाली है. इसके पति का नाम नईम है.

साथ जाने के लिए बना रहा था दबाव

पीड़िता का आरोप है कि नईम आए दिन उसे विदेश ले जाने के लिए दबाव बनाता रहता था. वो अपने असली नाम के पासपोर्ट पर ही विदेश जाने की जिद करती रही. उसका आरोप है कि जब नईम बार बार उसे साथ जाने के लिए दबाव बना रहा था तो उसने एक बार अपनी भाभी से भी बात कराई. इस दौरान नईम ने उसकी भाभी को 10 से 15 लाख रुपये केवल साथ विदेश भेजने के बदले देने का ऑफर दे दिया. इससे युवती और डर गई कि कहीं ऐसा तो नहीं कि नईम विदेश ले जाकर उसे बेच दे.

शादी तय हुई तो भेज दिया पासपोर्ट

युवती का आरोप है कि उसकी शादी तय हुई तो नईम ने रुखसती नाम से उसका पासपोर्ट लड़के को भेज दिया जिसमें उसे नईम की पत्नी बताया गया है. इसके बाद लड़के वालों ने रिश्ता तोड़ दिया. अब पीड़िता पुलिस के पास पहुंची और न्याय की गुहार लगाई है. युवती का फर्जी नाम से पासपोर्ट बन गया, इससे पुलिस के साथ ही एलआईयू की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े हो गए हैं. फिलहाल, पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है. पुलिस विभाग के अधिकारी इस मसले पर कुछ कहने को तैयार नहीं.

(रिपोर्ट- राजकुमार सिंह)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें