scorecardresearch
 

IPS चारू ने फेसबुक पर दी सफाई, बीजेपी MLA की फटकार से नहीं छलके थे आंसू

चारू ने पोस्ट किया, 'मेरे आंसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना, कठोरता से नहीं कोमलता से अश्क झलक गए.' उन्होंने पोस्ट किया, 'महिला अधिकारी हूं, तुम्हारा गुरूर न देख पाएगा, सच्चाई में है ज़ोर इतना अपना रंग दिखलाएगा.' चारू ने कहा कि उनकी ट्रेनिंग ने कमजोर होना नहीं सिखाया है.

X
आईपीएस चारू निगम
आईपीएस चारू निगम

गोरखपुर की ट्रेनी IPS चारू निगम ने फेसबुक पोस्ट करके अपने आंसुओं पर सफाई दी है. चारू ने लिखा है कि उनके आंसू बीजेपी विधायक राधा मोहनदास दास अग्रवाल के फटकार की वजह से नहीं निकले, बल्कि उनके सीनियर अधिकारी SP सिटी गणेश साहा के वहां पहुंचने और पुलिस फोर्स के साथ खड़े होने की वजह से आए. उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट में हिंदी और इंग्लिश में अपनी व्यथा लिखी है.

चारू ने पोस्ट किया, 'मेरे आंसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना, कठोरता से नहीं कोमलता से अश्क झलक गए.' उन्होंने पोस्ट किया, 'महिला अधिकारी हूं, तुम्हारा गुरूर न देख पाएगा, सच्चाई में है ज़ोर इतना अपना रंग दिखलाएगा.' चारू ने कहा कि उनकी ट्रेनिंग ने कमजोर होना नहीं सिखाया है. उन्होंने अपने समर्थकों का शुक्रिया भी अदा किया.

IPS अधिकारी चारू निगम फिलहाल गोरखपुर के एक थाने में बतौर प्रशिक्षु सीओ के तौर पर तैनात हैं, उन्होने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए विधायक को क्लीन चिट दे दी है कि उनके आंसू विधायक की फटकार की वजह से नहीं, बल्कि सीनियर अधिकारी के उनके साथ खड़े होने की वजह से निकले.

 

 

मालूम हो कि रविवार को बीजेपी एमएलए राधा मोहन अग्रवाल ने आईपीएस चारू निगम को सैकड़ों लोगों के सामने जमकर फटकार लगाई थी और तभी से यह सवाल भी उठने लगा था कि एक आईपीएस क्या इतना कमजोर है कि नेता की डांट से रो पड़े. खुद पर उठते सवालों के बीच आईपीएस चारू निगम ने ये फेसबुक पोस्ट कर सफाई देने की कोशिश की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें