scorecardresearch
 

ताजमहल के दीदार पर कोरोना की मार, 2020 में 76% कम आए टूरिस्ट

साल 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में करीब 76 प्रतिशत कम पर्यटक ताजमहल देखने आए. ताजमहल पर देशी पर्यटक या विदेशी पर्यटक सभी की संख्या कम रही है. वर्ष 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में केवल 24 प्रतिशत पर्यटकों ने ही ताज का दीदार किया है.

ताज महल (फाइल फोटो) ताज महल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पिछले 9 महीनों से किसी ने नहीं किया ताज का दीदार
  • वर्ष 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में 76% कम आए पर्यटक
  • वर्ष 2020 में 24 प्रतिशत पर्यटकों ने ही किया ताज का दीदार

संगमरमरी इमारत ताजमहल पर्यटकों की पहली पसंद होता है. कोरोना महामारी से पहले रोजाना ताजमहल का दीदार करने देश से लेकर विदेश तक के पर्यटक बड़ी संख्या आते थे. ताजमहल का दीदार करने वाले पर्यटकों की संख्या की बात करें तो साल 2019 की तुलना में 2020 में ताज में पर्यटकों की संख्या में भारी कमी देखी गई है.

साल 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में करीब 76 प्रतिशत कम पर्यटक ताजमहल देखने आए. ताजमहल पर देशी पर्यटक या विदेशी पर्यटक सभी की संख्या कम रही है. वर्ष 2019 की तुलना में वर्ष 2020 में केवल 24 प्रतिशत पर्यटकों ने ही ताज का दीदार किया है.

देखें आजतक LIVE TV

इसका सबसे बड़ा कारण है कि लंबे समय तक स्मारक बंद रहा है और स्मारक खुलने के बाद पर्यटकों की तय सीमा भी निर्धारित की गई थी और विदेशों से किसी फ्लाइट का संचालन नहीं हो रहा है. उस कारण से भी पर्यटक नहीं आ पा रहे हैं.

वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को ताज का दीदार कराने वाले गाइड नितिन सिंह का कहना है कि कोरोना महामारी के चलते हमारे बॉर्डर सील रहे जिससे पर्यटक आगरा नहीं आ पाए और साथ ही विदेशों से पर्यटकों का भी आना बंद है. पिछले करीब 9 महीने से कोई भी पर्यटक ताज घूमने नहीं आया है और हमारा काम विदेशी पर्यटकों से चलता है, जो अभी नहीं आ रहे हैं. इसलिए अभी हम बेरोजगार बैठे हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें