scorecardresearch
 

यूपी के कई जिलों में कल से खुल सकती हैं शराब की दुकानें, नोएडा-गाजियाबाद में आज से ही बिक्री शुरू

कोरोना की दूसरी लहर के बीच उत्तर प्रदेश में अभी कोरोना कर्फ्यू लगा हुआ है. इस बीच नोएडा और गाजियाबाद में आज से ही शराब की दुकानें खोल दी गई हैं, जबकि अन्य कई जिलों में बुधवार से इन्हें खोला जा सकता है.

शराब की दुकानें खुलते ही बड़ी संख्या में पहुंचने लगे लोग शराब की दुकानें खुलते ही बड़ी संख्या में पहुंचने लगे लोग
0:45
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना कर्फ्यू के बीच यूपी में खुलेंगी शराब की दुकानें
  • नोएडा, गाजियाबाद में मंगलवार से ही बिक्री शुरू

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच उत्तर प्रदेश में अभी लॉकडाउन लगा हुआ है. लेकिन इस पाबंदी के बीच गौतमबुद्ध नगर में शराब की दुकानों को खोलने का निर्देश दिया गया है. गौतमबुद्ध नगर जिले में सभी शराब और बीयर की दुकानें खोलने का निर्देश दे दिया गया है.  

आदेश के अनुसार, जिले में सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक शराब, बीयर की दुकानें खुलेंगी. जिले में कुल 524 शराब की दुकानें हैं. हालांकि, इस दौरान किसी भी दुकान की कैंटीन नहीं खुलेगी और कोरोना गाइडलाइन्स का पालन किया जाएगा. 

गौतमबुद्ध नगर के अलावा गाजियाबाद जिले में भी मंगलवार से ही शराब की दुकानें खुल रही हैं. दुकानों के बाहर 6 फीट की दूरी पर गोला बनाना होगा, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाया जा सके. वहीं, सभी दुकानों पर कैंटीन को बंद रखा जाएगा. 

नोएडा और गाजियाबाद में शराब की दुकानें जैसे ही खुलीं तो लोगों की भीड़ वहां पर जुटने लगी. लोग मास्क लगाकर शराब की दुकानों पर पहुंच रहे हैं, और स्टॉक ले रहे हैं. 



बाकी जगह कल से खुल सकती हैं...
गौतमबुद्ध नगर में शराब की दुकानें आज से खुल रही हैं, तो यूपी के अन्य कुछ जिलों में बुधवार से शराब की दुकानें खुल सकती हैं. जानकारी के मुताबिक, यूपी के बनारस समेत कुछ ज़िलों में ज़िलाधिकारियों ने एक बजे दिन तक शराब की दुकानें और बाकी ज़रूरी सामानों की दुकानें खोलनी की इजाज़त दी है.

आबकारी सूत्रों के मुताबिक, कर्फ्यू का फ़ैसला करते वक्त सरकार की तरफ से आबकारी की दुकानें को बंद करने का कोई आदेश नहीं था. लेकिन पिछले कई दिनों से दुकानें बंद चल रही हैं. जिसकी वजह से दुकानदारों ने आपत्ति दर्ज कराई थी.

बीते दिनों ही एसोसिएशन ने आबकारी विभाग से दुकानों को खोलने की परमीशन देने के लिये कहा है. इसी क्रम में अपने विवेकाधीन फ़ैसले के तहत जिले के ज़िलाधिकारी शराब की दुकानें खोलने की इजाज़त दे सकते हैं.

गौरतलब है कि यूपी में कोरोना संक्रमण के तेजी से हो रहे विस्तार के बीच 17 मई तक कोरोना कर्फ्यू का ऐलान किया गया है. इस दौरान सिर्फ ज़रूरी क्षेत्र की दुकानों को ही खोलने का फैसला लिया गया है, वो भी सिर्फ नियमित वक्त तक ही उन्हें खोला जा रहा है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें