scorecardresearch
 

विंध्यवासिनी देवी के मंदिर में क्यों लाल साड़ी पहनकर गईं प्रियंका गांधी, यह है राज

विंध्याचल मंदिर में जब प्रियंका गांधी पहुंचीं तो वहां उनके सामने ही कुछ लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में नारे लगाने लगे और उत्साहित लोग हर-हर मोदी, घर-घर मोदी के नारे लगाने लगे. हालांकि इस दौरान वह लाल रंग की साड़ी पहनकर गई थीं.

X
प्रियंका गांधी ने किया विंध्यवासिनी देवी का दर्शन (फोटो-ट्विटर) प्रियंका गांधी ने किया विंध्यवासिनी देवी का दर्शन (फोटो-ट्विटर)

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा मंगलवार को उत्तर प्रदेश के 3 दिवसीय दौरे पर आज मंगलवार को मिर्जापुर में थीं और अपनी इस यात्रा के दौरान कई कार्यक्रमों के इतर उन्होंने विंध्याचल मंदिर का दर्शन भी किया और मंदिर की विजिटर बुक में 'जय माता दी' लिखा. उनके मंदिर में दर्शन के दौरान एक चीज पर सभी की नजर रही कि उन्होंने दर्शन के दौरान आखिर लाल साड़ी ही क्यों पहन रखी थी.

प्रियंका गांधी के विंध्यवासिनी देवी के दर्शन के लिए आने से पहले के मंदिर के पुजारियों ने उनको लाल साड़ी पहनकर आने को कहा था इसीलिए वह लाल साड़ी पहनकर मंदिर गईं और देवी का दर्शन किया. लाल रंग मां विंध्यवासिनी और शक्ति का प्रतीक है इसीलिए मंदिर की तरफ से लाल साड़ी पहनने को कहा गया था.

मंदिर में दर्शन के लिए जाने के दौरान प्रियंका गांधी लाल साड़ी पहनकर मंदिर पहुंची थीं. उस दौरान सिर पर पल्लू भी था और पूरे भक्ति भाव में भी दिखीं. मंदिर में प्रियंका गांधी वाड्रा ने पहले मां विंध्यवासिनी के दर्शन कर पूजन भी किया और फिर उनकी आरती की. उसके बाद वह अपने परिवार के परंपरागत मंदिर राधे कृष्ण मंदिर भी गई जो इसी परिसर में मौजूद है वहां उन्होंने बैठकर तसल्ली से काफी देर तक पूजा की.

priyanka_031919100846.jpg

प्रियंका गांधी ने विजिटर्स बुक पर अपने परिवार के पंडों के बारे में और मंदिर में मिले आध्यात्मिक एहसास के बारे में लिखा. आखिर में प्रियंका गांधी ने 'जय माता दी' लिखकर अपना पूरा नाम प्रियंका गांधी वाड्रा लिखा.

हालांकि विंध्याचल मंदिर में जब प्रियंका गांधी पहुंचीं तो वहां उनके सामने ही कुछ लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समर्थन में नारे लगाने लगे और उत्साहित लोग हर-हर मोदी, घर-घर मोदी के नारे लगाने लगे.

मंदिर जाने से पहले प्रियंका गांधी ने ख्वाजा जनाब इस्माइल चिश्ती की दरगाह पर जियारत की. चिश्ती की मजार पर उन्होंने भी मत्था टेका और चादर चढ़ाई. इस मजार पर गांधी परिवार के सभी सदस्य आ चुके हैं. इंदिरा गांधी, सोनिया गांधी और राहुल गांधी के बाद अब प्रियंका गांधी यहां आईं हैं.

मिर्जापुर में अपने इस दौरे के दौरान प्रियंका गांधी ने कई लोगों से मुलाकात की और उनकी समस्याएं सुनीं. उन्होंने बुनकरों, शिक्षामित्रों के प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात की और उनकी समस्याओं को सुना.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें