scorecardresearch
 

आकाश के बहाने मायावती का निशाना, कहा- मोदी की फटकार का असर न दिखा है, न दिखेगा

मायावती ने बुधवार को ट्वीट में लिखा, सत्ताधारी पार्टी के लोग कानून को खुलेआम हाथ में लेकर अराजकता फैला रहे हैं, बीजेपी नेतृत्व की फटकार का असर नहीं दिख रहा है.

बसपा प्रमुख मायावती (फोटो-IANS) बसपा प्रमुख मायावती (फोटो-IANS)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सख्त टिप्पणी पर बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. मायावती ने बुधवार को एक ट्वीट में लिखा, 'सत्ताधारी पार्टी के लोग कानून को खुलेआम हाथ में लेकर अराजकता फैला रहे हैं, बीजेपी नेतृत्व की फटकार का असर नहीं दिख रहा है.'

मायावती ने लिखा, 'देश भर में हर स्तर पर सत्ताधारी पार्टी के लोगों द्वारा जिस प्रकार से कानून को खुलेआम हाथ में लेकर हर प्रकार की अराजकता फैलाई जा रही है. वह लगातार गंभीर चिंता का विषय बना हुआ है लेकिन बीजेपी नेतृत्व की यदाकदा फटकार से अबतक स्थिति में कोई सुधार नहीं आया है और न आगे कोई गारंटी है.'

बता दें, मंगलवार को पीएम मोदी ने बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के मामले में सख्त टिप्पणी करते हुए कहा था कि किसी का भी बेटा हो, उसकी ये हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी. जिन लोगों ने स्वागत किया है, उन्हें पार्टी में रहना का हक नहीं है. सभी को पार्टी से निकाल देना चाहिए.'

इंदौर में जर्जर मकान को तोड़ने गए नगर निगम के अमले की क्रिकेट के बल्ले से पिटाई करने वाले आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. बाद में उन्हें जमानत मिली. आकाश बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के बेटे हैं. पुलिस के मुताबिक, नगर निगम के अधिकारी धीरेंद्र व्यास की शिकायत पर एमजी रोड पुलिस थाने में आकाश विजयवर्गीय के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट और बलवा करने के लिए धारा 353, 294, 506, 147, 148 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया और उन्हें गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया.

आकाश विजयवर्गीय के रविवार सुबह जमानत पर जेल से बाहर आने पर उनके समर्थकों ने उनका भव्य स्वागत किया. उन्होंने जश्न मनाते हुए हवाई फायरिंग भी की. अपने समर्थकों के साथ जेल पहुंचे आकाश के पिता और बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने जेल के बाहर उनका स्वागत किया. घर आने से पहले आकाश बीजेपी कार्यालय गए, जहां उन्हें फूल और मिठाइयां भेंट की गईं. उन्होंने अपने समर्थकों का धन्यवाद किया और कहा कि उन्होंने जेल में अच्छा समय बिताया. उन्होंने वादा किया कि वे क्षेत्र के लोगों के लिए काम करते रहेंगे. उन्होंने उम्मीद जताई कि उन्हें दोबारा 'बल्लेबाजी' करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें