scorecardresearch
 

आग ने सब कुछ जला दिया, बस बची रही मां दुर्गा की प्रतिमा... भदोही अग्निकांड की ग्राउंड रिपोर्ट

भदोही जिले में दुर्गा पांडाल में भीषण आग लगने की घटना में मृतकों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है. आज सुबह आजतक की टीम ने घटनास्थल का जायजा लिया. मौके पुलिस मौजूद है. घटना स्थल पर आम लोगों के जाने पर रोक है. हर तरफ आग की तबाही दिख रही है. पूरा पंडाल जल चुका है, लेकिन मां दुर्गा की प्रतिमा बची हुई.

X
मां दुर्गा की प्रतिमा को कोई नुकसान नहीं हुआ है
4:38
मां दुर्गा की प्रतिमा को कोई नुकसान नहीं हुआ है

आग में जल चुका पूरा पंडाल और बीच में मां दुर्गा की प्रतिमा. यह नजारा है भदोही के उस दुर्गा पंडाल का, जहां रविवार को आग लग गई थी. जिस वक्त आग लगी उस वक्त दुर्गा पंडाल में सांस्कृतिक कार्यक्रम चल रहा था. देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया और सब कुछ जलकर खाक हो गया. इस हादसे में कई घायल हुए थे और पांच की मौत हो गई है.

उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में दुर्गा पांडाल में भीषण आग लगने की घटना में मृतकों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है. 64 घायलों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है. गंभीर रूप से घायल 42 लोगों को वाराणसी और चार को प्रयागराज रेफर किया गया है. 

घटनास्थल का कैसा है नजारा?

आज सुबह आजतक की टीम ने घटनास्थल का जायजा लिया. मौके पुलिस मौजूद है. घटना स्थल पर आम लोगों के जाने पर रोक है. हर तरफ आग की तबाही दिख रही है. पूरा पंडाल जल चुका है, लेकिन मां दुर्गा की प्रतिमा बची हुई. पूरे पंडाल में मां दुर्गा की प्रतिमा को ही नुकसान नहीं हुआ है. बाकी पूरा पंडाल जलकर खाक में तब्दील हो गया है.

कैसे लगी थी आग?

औराई थाना क्षेत्र में स्थित दुर्गा पूजा पंडाल में शॉर्ट सर्किट से आग लगी थी, जिसमें बारह वर्षीय अंकुश सोनी, दस वर्षीय नवीन, 45 वर्षीय महिला जया देवी की उपचार के दौरान मौत हो गई है. घटना में सभी घायलों का डिटेल सामने आ गया है, जिसके मुताबिक कुल 64 लोग घटना में घायल हैं. सभी घायलों का इलाज में आने वाले खर्च में प्रशासन मदद करेगी.

रात के नौ बजे लगी आग, मच गई भगदड़

पूरे मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित की गई है. रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जायेगी. गौरतलब है कि रविवार की रात नौ बजे के करीब औराई कोतवाली से 100 मीटर की दूरी पर स्थित पूजा पंडाल में आग लग गई थी, जिस समय आग लगी थी, उस समय पंडाल में एक आध्यात्मिक कार्यक्रम का कलाकारों द्वारा का मंचन हो रहा था.

इसे देखने के लिए भारी संख्या में महिला पुरुष और बच्चे पंडाल के अंदर मौजूद थे. अचानक पंडाल में आग लगने के बाद वहां अफरा तफरी मच गई थी. भगदड़ के बीच जब लोग भागने लगे तो एक-दूसरे पर गिरते चले गए. फिलहाल इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 60 से अधिक लोग घायल हैं.

एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत

इस हादसे में एक ही परिवार के 3 सदस्यों की दर्दनाक मौत हुई है. दादी और उसके दो नातियों की मौत इस हादसे में हुई. पीड़ित परिवार ने सोचा नहीं था कि उनकी नवरात्रि की खुशियां इस तरह हम में बदल जाएंगी. परिवार में कोहराम मचा हुआ है. बताया जा रहा है कि पुरुषोत्तमपुर गांव की रहने वाली जय देवी अपने परिवार के कई सदस्यों के साथ दुर्गा पूजा पंडाल में रविवार की रात गई हुई थी. उसी दौरान पंडाल में आग लग गई.

इस हादसे में जय देवी और उसके दो नातियों की मौत हो गई है. पूरे गांव में मातम का माहौल बना हुआ है. बड़ी संख्या में लोग मृतकों के परिजनों के घर पहुंच कर सांत्वना दे रहे हैं. जय देवी के पति ने बताया कि उनकी पत्नी के साथ उनकी तीन बहू ,नाती और नातिने दुर्गा पूजा पंडाल में गई थी. उन्होंने बताया कि पत्नी और एक नाती की मौत अस्पताल में हुई है, जबकि एक नाथी की मौत घर पर आज सुबह हुई है.

(रिपोर्ट- महेश)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें