scorecardresearch
 

अभद्र टिप्पणी: सदन के बाहर भी घिरे आजम खान, जया प्रदा केस में चार्जशीट फाइल

समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आजम खान के खिलाफ लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा उम्मीदवार जया प्रदा पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में पुलिस ने चार्जशीट फाइल की है. 14 अप्रैल को शाहबाद में पूर्व मुख्यमंत्री एवं सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजम खान के समर्थन में जनसभा की थी. इस सभा में संबोधन के दौरान आजम खान ने भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा को लेकर अमर्यादित टिप्पणी की थी.

रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान (Photo: Getty Images) रामपुर से समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान (Photo: Getty Images)

समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आजम खान के खिलाफ लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा उम्मीदवार जया प्रदा पर अभद्र टिप्पणी करने के मामले में पुलिस ने चार्जशीट फाइल की है. 14 अप्रैल को शाहबाद में पूर्व मुख्यमंत्री एवं सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजम खान के समर्थन में जनसभा की थी. इस सभा में संबोधन के दौरान आजम खान ने भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा को लेकर अमर्यादित टिप्पणी की थी.

आजम खान ने बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा के कपड़ों पर बेहद अशोभनीय टिप्पणी की थी. आजम खान ने रैली में कहा था, "जिसको हम ऊंगली पकड़कर रामपुर लाए, आपने 10 साल जिससे अपने इलाके का प्रतिनिधित्व कराया...उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके..." बता दें कि बीजेपी नेता जया प्रदा 2004 और 2009 में सपा के टिकट पर रामपुर से सांसद रह चुकी हैं. 2010 में पार्टी विरोधी गतिविधियों की वजह से उन्हें निष्कासित कर दिया गया था.

आजम खान के इस बयान पर बीजेपी ने सख्त प्रतिक्रिया दी थी और इसे राजनीतिक पतन की पराकाष्ठा करार दिया था. बीजेपी ने कहा था ये समाजवादी पार्टी का असली चेहरा है.

इस बयान को लेकर काफी बवाल मचा. देश भर में चौतरफा निंदा के बाद महिला आयोग ने भी आजम खान को नोटिस जारी किया था और सफाई देने को कहा था. स्थानीय प्रशासन ने भी इसका संज्ञान लिया था और मजिस्ट्रेट महेश कुमार गुप्ता ने शाहबाद कोतवाली में आजम खान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. अब इस मामले में शाहबाद पुलिस ने आजम खान के खिलाफ न्यायालय में आरोपपत्र दाखिल कर दिया है.

आजम खान इस वक्त जौहर विश्वविद्यालय के लिए अवैध जमीन कब्जे को लेकर कई मुकदमों का सामना कर रहे हैं. जमीन कब्जे के मामले में राज्यपाल राम नाईक ने उनके खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें