scorecardresearch
 

Ayodhya: CM योगी ने रखा राम मंदिर के गर्भगृह का पहला पत्थर, बोले- यह राष्ट्र मंदिर होगा

अयोध्या में चल रहे राम मंदिर निर्माण के लिए आज का दिन ऐतिहासिक है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गर्भ गृह की आधारशिला रखी. इसके साथ ही राम मंदिर के लिए कई सालों से तराशे जा रहे पत्थरों का इस्तेमाल शुरू हो गया.

X
राम मंदिर निर्माण स्थल पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राम मंदिर निर्माण स्थल पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तेजी से चल रहा है राम मंदिर का निर्माण
  • कार्यशाला में तराशे जा रहे हैं पत्थर

अयोध्या में भव्य राममंदिर के निर्माण के लिए आज ऐतिहासिक दिन है. आज से गर्भगृह का निर्माण शुरू हो गया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गर्भगृह के निर्माण के लिए पहली शिला रखी. इसके साथ ही 29 मई से शुरू हुआ सर्वदेव अनुष्ठान का समापन हो गया. अब सीएम योगी निर्माण स्थल के पास द्रविड़ शैली में बने मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भी शामिल होंगे.

Ram Mandir Live Update-

10:19 AM: अयोध्या राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा ने कहा कि अधिरचना पर काम आज से शुरू हो रहा है, हमारे पास कार्यों को पूरा करने के लिए 3-चरण की समय सीमा है, 2023 तक गर्भगृह, 2024 तक मंदिर निर्माण और 2025 तक मंदिर परिसर में मुख्य निर्माण होगा.

10:16 AM: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले 500 साल से देश के साधु-संत राम मंदिर आंदोलन को चला रहे थे, आज उन सभी लोगों के दिल को खुशी मिली होगी, गर्भगृह का पहला पत्थर रख दिया है, गोरक्षनाथ पीठ की तीन पीढ़ी इस मंदिर आंदोलन से जुड़ी हुई थी.

10:12 AM: गर्भगृह का पहला पत्थर रखने के बाद मीडिया से बात करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज से शिलाओं के रखने का काम तेजी से शुरू हो जाएगा, अब वो दिन दूर नहीं है जब मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का भव्य मंदिर अयोध्या धाम में बनकर तैयार हो जाएगा, यह मंदिर भारत का राष्ट्र मंदिर होगा.

10:05 AM: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गर्भगृह का पहला पत्थर रख दिया है. इसके साथ ही उन्होंने मंदिर के आर्किटेक्ट के अलावा कारीगरों को सम्मानित किया.

9:40 AM: हनुमानगढ़ी के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राम मंदिर निर्माण स्थल पहुंच गए हैं. मंत्रोच्चार के बीच गर्भगृह की आधारशिला रखी जा रही है.

9:32 AM: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हनुमानगढ़ी पहुंच गए हैं. वह हनुमानजी के दर्शन पूजन कर रहे हैं. इसके बाद वह श्रीराम जन्मभूमि पहुंचेंगे.

9:30 AM: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंच गए हैं. वह सीधे हनुमानगढ़ी जा रहे हैं.

9:00 AM: आज अयोध्या में भव्य राम मंदिर के गर्भगृह की पहली शिला रखी जाएगी. खुद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने हाथ से शिला रखेंगे. इससे पहले वह हनुमान गढ़ी में हनुमान जी के दर्शन करेंगे. सीएम योगी निर्माण स्थल के पास द्रविड़ शैली में बने मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भी शामिल होंगे.

द्रविड़ शैली में बना मंदिर

लंबे समय से तराशे जा रहे पत्थरों का इस्तेमाल शुरू हो जाएगा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जब शुभ मूहर्त में मंदिर के गर्भगृह की आधारशिला रखेंगे, उसके बाद लंबे समय से तराशे जा रहे पत्थरो का उपयोग शुरू हो जाएगा. इसके लिए राजस्थान और अयोध्या में कई नयी वर्कशाप में पत्थरों पर नक्काशी का कार्य तेजी से चल रहा है. राजस्थान के साथ पहली बार इसके लिए यूपी के कारीगरों को भी इस कार्य में लगाया गया है.

अयोध्या के श्री रामजन्मभूमि कार्यशाला में पत्थर तराशने का कार्य 1992 से चल रहा है. अभी तक मंदिर निर्माण के लिए पिलर्स पर नक्काशी का कार्य लगभग पूरा हो गया है. छत के पत्थरों को तराशने का कार्य भी काफी हद तक हो चुका है. अब पिलर्स को आपस में जोड़ने के लिए बीम के पत्थरों पर नक्काशी का कार्य रामकारसेवक पुरम में शुरू हो गया है.

इस स्थान पर पहली बार पत्थर तराशने के लिए अस्थाई कार्यशाला का निर्माण किया गया है, जिसमें अभी 15 कारीगर काम कर रहे हैं लेकिन शीघ्र ही इनकी संख्या 50 होने वाली है. ऐसी ही 3 कार्यशाला राजस्थान में भी स्थापित की गयी है, जहां से पत्थरों को तराशने के बाद अयोध्या लाया जा रहा है. 

इससे पहले राम मंदिर के लिए जितने पत्थरों की आवश्यकता थी, उसका 70 फीसदी पत्थर तराश लिए गए थे लेकिन सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद मंदिर के पुराने मॉडल में विस्तार किया गया. इसके बाद तराशे गए पत्थरों की आवश्यकता बढ़ गयी, जिसकी पूर्ति के लिए तेजी से कार्य चल रहा है. राम मंदिर निर्माण में सीमेंट और सरिया आदि का प्रयोग नहीं होगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें