scorecardresearch
 

अयोध्या के स्वामी परमहंस दास बोले- खत्म हो मुसलमानों की नागरिकता, यहां रहें तो गुलाम बनकर

परमहंस दास ने मुसलमानों पर हमला बोलते हुए कहा कि ये देश में रहकर आतंकियों का समर्थन करेंगे और आतंक की ओर ले जाएंगे. इसीलिए हम लोग लगे हैं कि मुसलमानों की नागरिकता खत्म हो और अगर ये हिंदुस्तान में रहें भी तो गुलाम बनकर रहें नहीं तो पाकिस्तान जाएं जो इनको दिया गया है.

X
परमहंस दास का विवादित बयान परमहंस दास का विवादित बयान
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुलाम बनकर रहें मुसलमान, खत्म हो नागरिकता- परमहंस दास
  • कहा- तालिबान का समर्थन करने वाले जाएं पाकिस्तान

विवादित बयानों से चर्चा में रहने वाले अयोध्या के स्वामी परमहंस दास फिर से चर्चा में हैं. परमहंस दास ने इसबार यूपी की राजधानी लखनऊ से सटे बाराबंकी की धरती से मुसलमानों को लेकर विवादित बयान दिया और असदुद्दीन ओवैसी पर भी जमकर निशाना साधा. स्वामी परमहंस दास ने हिंदू राष्ट्र की भी बात की और तालिबान का समर्थन करने वालों पर भी जमकर बरसे.

परमहंस दास ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की अयोध्या में होने वाली रैली के पोस्टर पर अयोध्या न लिखकर फैजाबाद लिखे जाने पर नाराजगी जताई. उन्होंने ओवैसी को दूसरा जिन्ना बताया और कहा कि वो हमेशा भड़काऊ भाषण देता है. सरकार ने फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया है, ये सर्वमान्य भी है लेकिन ओवैसी ने अयोध्या न लिखकर पोस्टर पर फैजाबाद लिखवाया है जिससे संत समाज और अयोध्या के नागरिकों में नाराजगी है.

परमहंस दास ने कहा कि अगर ओवैसी अपने पोस्टर्स में फैजाबाद की जगह अयोध्या नहीं लिखता है तो हम अयोध्या में रैली नहीं होने देंगे. हमने इस संबंध में प्रशासन को सूचना दे दी है. परमहंस दास ने तालिबान के समर्थन में बयान के लिए शफीक उर रहमान और मुनव्वर राणा पर भी हमला बोला और सभी मुसलमानों को कठघरे में खड़ा किया और कहा कि इन लोगों ने आतंकी तालिबानियों का समर्थन किया है. इससे पता चलता है कि मुस्लिम समुदाय को अलग देश दे दिया गया है इसके बावजूद ये यहां क्यों रह रहे हैं.

परमहंस दास इतने पर ही नहीं रुके. उन्होंने मुसलमानों पर हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि ये देश में रहकर आतंकियों का समर्थन करेंगे और आतंक की ओर ले जाएंगे. इसीलिए हम लोग लगे हैं कि मुसलमानों की नागरिकता खत्म हो और अगर ये हिंदुस्तान में रहें भी तो गुलाम बनकर रहें नहीं तो पाकिस्तान जाएं जो इनको दिया गया है. उन्होंने हिंदू राष्ट्र की मांग करते हुए विश्वास व्यक्त किया कि पीएम मोदी भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित कर देंगे. परमहंस दास ने साथ ये भी चेतावनी दी कि यदि 2 अक्टूबर तक हिंदू राष्ट्र घोषित नहीं किया जाता है, अगर सरकार सकारात्मक आश्वासन नहीं देती है तो जल समाधि ले लूंगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें