scorecardresearch
 

अयोध्या: दीपोत्सव कार्यक्रम में बदलाव, अब 13 को जगमाएगी राम की पैड़ी

अयोध्या के दीपोत्सव कार्यक्रम में बदलाव हुआ है. अब 12 नवंबर को भगवान राम के आने का उल्लास मनेगा तो 13 नवंबर को अयोध्या की राम की पैड़ी पर दीपोत्सव होगा.

X
अयोध्या में दीपोत्सव की खास तैयारी
अयोध्या में दीपोत्सव की खास तैयारी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 12 नवंबर को भगवान राम के आने का मनेगा जश्न
  • राम जन्मभूमि पर जलाए जाएंगे 4 हजार दीपक

अयोध्या के दीपोत्सव कार्यक्रम में बदलाव हुआ है. अब 12 नवंबर को भगवान राम के आने का उल्लास मनेगा तो 13 नवंबर को अयोध्या की राम की पैड़ी पर दीपोत्सव होगा. राम जन्मभूमि परिसर में पहली बार चार हजार दीपक जलाए जाएंगे. वहीं, राम की पैड़ी पर साढे पांच लाख दीपक जलाकर नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है.

दीपोत्सव कार्यक्रम के दौरान राम की पैड़ी पर राम मंदिर और महिला सशक्तिकरण को प्रदर्शित करते रेखा चित्र दिखाई देंगे.  दीपावली के दिन पूरी अयोध्या को रोशनी से जगमगाने की तैयारी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके कहा कि अयोध्या में दीपावली पर संपन्न होने वाले 'दीपोत्सव-2020' को भव्य स्वरूप प्रदान किया जाएगा.

देखें: आजतक LIVE TV

सीएम ऑफिस से ट्वीट में कहा गया कि अत्याधुनिक तकनीक पर आधारित 'लेजर शो' के माध्यम से भगवान श्री राम के अयोध्या आगमन का चित्रण किया जाएगा. आगमन के पश्चात नगरवासियों द्वारा उनके स्वागत में प्रज्ज्वलित किए गए दीपों की जगमगाहट के साथ ही उनकी प्रसन्नता और प्रभु श्री राम के स्वागत में किए गए आयोजन को भी दर्शाएगा.

सीएम ऑफिस के मुताबिक, इस वर्ष आयोजित होने वाले लेजर शो में जहां एक ओर प्रभु श्री राम की स्तुति 'श्री रामचन्द्र कृपालु भजमन' पृष्ठभूमि में सुनने को मिलेगी वहीं लेजर द्वारा वर्चुअल आतिशबाजी का कार्यक्रम 'दीपोत्सव-2020' एक प्रमुख आकर्षण होगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें