scorecardresearch
 

अलीगढ़ का डिफेंस कॉरिडोर क्यों अहम? ब्रह्मोस समेत डिफेंस उपकरणों के निर्माण में आएगी तेजी

अलीगढ़ का डिफेंस कॉरिडोर (defence corridor) कारोबारियों और उद्यमियों के लिहाज से काफी अहम माना जा रहा है. करीब 1500 करोड़ रुपये की लागत से तैयार इस कॉरिडोर को तैयार किया गया है और इसमें 19 इंडस्ट्रियल यूनिट्स होंगी.

PM नरेंद्र मोदी (फाइल-पीटीआई) PM नरेंद्र मोदी (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 1500 करोड़ की लागत से कॉरिडोर तैयार किया गया
  • अलीगढ़ डिफेंस कॉरिडोर में 19 इंडस्ट्रियल यूनिट्स होंगी
  • इंडस्ट्रियल यूनिट्स के लिए 200 एकड़ जमीन का अधिग्रहण

उत्तर प्रदेश में अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मंगलवार को अलीगढ़ में राजा महेंद्र प्रताप सिंह स्टेट यूनिवर्सिटी की आधारशिला रखेंगे. साथ ही डिफेंस कॉरिडोर का उद्घाटन भी करेंगे.

योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi adityanath Government) ने पिछले साल राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर यूनिवर्सिटी बनाने का फैसला लिया. यूपी कैबिनेट में पहले एक प्रस्ताव पास किया गया और फिर 25 नवंबर 2020 को अध्यादेश लाया गया. अब इस यूनिवर्सिटी का आज शिलान्यास प्रधानमंत्री मोदी के हाथों होना है.

साथ ही यूनिवर्सिटी के अलावा प्रधानमंत्री आज अलीगढ़ में डिफेंस कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे. यह डिफेंस कॉरिडोर कारोबारियों और उद्यमियों के लिहाज से काफी अहम माना जा रहा है. करीब 1500 करोड़ रुपये की लागत से तैयार इस कॉरिडोर को तैयार किया गया है और इसमें 19 इंडस्ट्रियल यूनिट्स होंगी.

यूनिट्स के लिए 200 एकड़ जमीन का अधिग्रहण

इंडस्ट्रियल यूनिट्स के लिए 200 एकड़ जमीन का अधिग्रहण भी किया गया है. स्टेट यूनिवर्सिटी और डिफेंस कॉरिडोर के बारे में सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि ये अलीगढ़ और उसके आसपास के इलाकों के लिए विकास की धुरी बनेगा.

इसे भी क्लिक करें --- आज अलीगढ़ दौरे पर पीएम नरेंद्र मोदी, यूनिवर्सिटी और डिफेंस कॉरिडोर की रखेंगे आधारशिला

इस डिफेंस कॉरिडोर का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2018 में शिलान्यास किया था. ये कॉरिडोर अलीगढ़, आगरा, कानपुर, लखनऊ, झांसी और चित्रकूट को जोड़ेगा. इस डिफेंस कॉरिडोर से ब्रह्मोस प्लांट समेत डिफेंस उपकरणों के निर्माण में आसानी होगी.

क्यों खास है डिफेंस कॉरिडोर

डिफेंस कॉरिडोर के बारे में यूपी के औद्योगिक मंत्री सतीश महाना ने बताया था कि 2 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के निवेश के साथ यूपी कॉरिडोर का उद्घाटन पीएम मोदी 14 सितंबर को करेंगे. उत्तर प्रदेश रक्षा उत्पादों, ब्रह्मोस मिसाइल, टैंक और अन्य उत्पादों की लिहाज से आगे बढ़ा है.

उन्होंने कहा कि फरवरी 2018 के बाद तेजी से काम हुआ है. अलीगढ़ नोड में 200 एकड़ जमीन की घोषणा की गई थी. 2037 करोड़ रुपये की रिलीज के साथ 29 कंपनियों के साथ एमओयू साइन किया गया है. साथ ही जमीन की लागत पर निवेशक को 25% की छूट भी दी जाएगी.

साथ ही राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर स्थापित हो रही स्टेट यूनिवर्सिटी में स्किल डेवलपमेंट समेत कई वेकेशनल कोर्सस भी होंगे. इससे हाथरस, कासगंज और एटा समेत कई जिलों के 100 से ज्यादा कॉलेजों को जोड़ा जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से शिलान्यास किए जाने के बाद आसपास के कॉलेजों को राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी से जोड़ने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें