scorecardresearch
 

आगरा: 14 दिन की बच्ची का ब्लैक फंगस का सफल ऑपरेशन, अब खतरे से बाहर

उत्तर प्रदेश के आगरा में एक 14 दिन की बच्ची में ब्लैक फंगस के लक्षण थे, यहां डॉक्टर्स ने बच्ची का सफल ऑपरेशन किया और उसे ब्लैक फंगस से मुक्ति दिलाई.

आगरा में ब्लैक फंगस को ऑपरेशन से दी मात (सांकेतिक तस्वीर: PTI) आगरा में ब्लैक फंगस को ऑपरेशन से दी मात (सांकेतिक तस्वीर: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आगरा में 14 दिन की बच्ची में ब्लैक फंगस के लक्षण
  • डॉक्टरों ने किया सफल ऑपरेशन

कोरोना संकट के बीच नई चुनौती बनकर सामने आए ब्लैक फंगस के मामले अभी भी देश में मिल रहे हैं. इस संकट के बीच एक राहत की खबर भी मिली है, जो उम्मीद जगाती है. उत्तर प्रदेश के आगरा में एक 14 दिन की बच्ची में ब्लैक फंगस के लक्षण थे, यहां डॉक्टर्स ने बच्ची का सफल ऑपरेशन किया और उसे ब्लैक फंगस से मुक्ति दिलाई.

आगरा के सरोजनी नायडू मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने बच्ची का सफल ऑपरेशन किया. समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, 14 दिन की एक बच्ची जिसके गाल पर काला निशान था, उसे शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया. 

डॉ. अखिलेश प्रताप सिंह ने बताया कि बच्ची का बाद में ऑपरेशन किया गया और ब्लैक फंगस इंफेक्शन को निकाला गया. डॉक्टर के मुताबिक, बच्ची को जब एडमिट किया गया तब उसके दिल और किडनी में कुछ दिक्कत थी और उसका वजन भी कम था, हालांकि कोविड के लक्षण नहीं थे. अब ऑपरेशन के बाद बच्ची खतरे से बाहर है और वह आईसीयू में डॉक्टरों की निगरानी में है. 

आगरा के सरोजनी नायडू मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अभी तक एक मरीज की ब्लैक फंगस के कारण मौत हो चुकी है, जबकि करीब 32 मरीज ऐसे हैं जिनका इलाज जारी है. कोरोना की दूसरी लहर के बीच ब्लैक, व्हाइट और येलो फंगस के कई मामलों ने देश में चिंता बढ़ा दी थी. 

सबसे मुश्किल की बात ये थी कि कई स्थानों पर इसके इलाज में काम आने वाला इंजेक्शन या दवाइयां भी उपलब्ध नहीं हो पा रही थी. हालांकि, अब केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से दवाइयों की सप्लाई पर जोर दिया जा रहा है. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें