scorecardresearch
 

भूकंप के झटकों से फिर हिला UP, मुरादाबाद के घरों में पड़ी दरारें

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत राज्य के कई हिस्सों में रविवार दोपहर फिर से भूकंप के झटके महसूस किये गए. भूकंप की वजह से अब तक कम से कम 13 लोगों की मौत हो चुकी है और 40 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं. मुरादाबाद के कई घरों में दरार की खबर है.

भूकंप का केंद्र रहा नेपाल का लामजुम भूकंप का केंद्र रहा नेपाल का लामजुम

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत राज्य के कई हिस्सों में रविवार दोपहर फिर से भूकंप के झटके महसूस किये गए. भूकंप की वजह से अब तक कम से कम 13 लोगों की मौत हो चुकी है और 40 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं. मुरादाबाद के कई घरों में दरार की खबर है.

मौसम विभाग के मुताबिक, दोपहर करीब 12 बजकर 43 मिनट पर लखनऊ, कानपुर, संतकबीरनगर, फैजाबाद, बहराइच, बलिया, महाराजगंज, कुशीनगर, अमेठी, उन्नाव, एटा तथा बाराबंकी समेत कई जिलों में भूकम्प के झटके महसूस किए गए. यह कम्पन करीब 45 सेकेंड तक रहा. ताजा झटके आने से घबराये लोग एक बार फिर सड़कों पर आ गए.

उत्तर प्रदेश में शनिवार और रविवार को आए भूकंप से अब तक 13 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 20 लोगों के घायल होने की खबर है. शनिवार देर रात भूकंप की अफवाहों के बीच लोग खौफ में रहे. इससे पहले वॉट्स ऐप्प और फेसबुक पर भूकंप की झूठी भविष्यवाणी के मैसेज से रातभर लोग परेशान और घरों से बाहर रहे.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने हादसों में मारे गए लोगों के परिजन को सात-सात लाख और घायलों को 20-20 हजार रुपये सहायता देने का ऐलान किया. इसके अलावा वरिष्ठ अधिकारियों को भूकंप से हुए नुकसान का आकलन करने के निर्देश भी दिए.

नेपाल की तरफ यूपी ने बढ़ाया मदद का हाथ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर राज्य सरकार की तरफ से सहायता सामग्री भेजी जाएगी. मुख्यमंत्री के निर्देश पर नेपाल में भूकंप पीडि़तों की मदद के लिए 10 ट्रक मिनरल वॉटर 10 ट्रक बिस्किट और एक ट्रक दवाएं भेजी जा रही हैं. ये ट्रक नेपाल के लिए रवाना होंगे.

मुख्यमंत्री ने कहा है कि आपदा और संकट की इस घड़ी में उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार तथा जनता नेपाल के साथ है. आगे भी नेपाल के भूकंप पीड़ितों की हरसंभव मदद की जाएगी.

अखिलेश यादव ने किया छुट्टी का ऐलान
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भूकंप की सूचना मिलने पर स्कूलों में तत्काल छुट्टी करने का आदेश दे दिए. अखिलेश ने ‘ट्वीट’ के जरिए बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से फोन पर हुई बातचीत में भूकम्प से प्रदेश में उत्पन्न स्थिति से अवगत कराया है.

इन शहरों में लोगों को महसूस हुए भूकंप के झटके
लखनऊ के अलावा प्रदेश के फिरोजाबाद, प्रतापगढ़, हरदोई, बलरामपुर, जालौन, नोएडा, बलिया, सीतापुर, फर्रुखाबाद, अमेठी, मैनपुरी, गाजियाबाद, हाथरस, सिद्धार्थनगर, लखीमपुर खीरी, बरेली, वाराणसी, सुल्तानपुर, रायबरेली समेत अनेक अन्य जिलों में भी भूकम्प के झटके महसूस किए गए. इनमें से अनेक स्थानों पर जलजले के कारण इमारतों में दरारें पड़ गईं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें