scorecardresearch
 

नेपाल में भूकंप से अब तक 3200 और भारत में 67 की मौत

भूकंप के झटकों ने एक बार फिर नेपाल सहित उत्तर भारत को हिला दिया है. यूपी, बिहार और असम में रविवार को पौने दस बजे के आसपास भूकंप झटके महसूस किए गए. इसके साथ ही नेपाल के काठमांडू में एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. नेपाल में भूकंप से मरने वालों की संख्या 3200 के पार हो गई है जबकि भारत में अब तक 67 लोगों की मौत हो चुकी है.

NDRF की टीमें बचाव कार्य में जुटी NDRF की टीमें बचाव कार्य में जुटी

भूकंप के झटकों ने एक बार फिर नेपाल सहित उत्तर भारत को हिला दिया है. यूपी, बिहार और असम में रविवार को पौने दस बजे के आसपास भूकंप झटके महसूस किए गए. इसके साथ ही नेपाल के काठमांडू में एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. नेपाल में भूकंप से मरने वालों की संख्या 3200 के पार हो गई है जबकि भारत में अब तक 67 लोगों की मौत हो चुकी है.

नेपाल से सटे यूपी के लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. वहीं, बिहार के दरभंगा, सीतामढ़ी, अररिया, रक्सौल, समस्तीपुर, बेतिया, औरंगाबाद, बाढ़ जिलों को भूकंप के झटकों ने एक बार फिर हिला दिया है. असम में भूकंप के झटकों की तीव्रता 3.2 थी.

काठमांडू में हल्की-हल्की बारिश हो रही है और इस वजह से बचाव कार्य में दिक्कतें आ रही है. भूकंप के झटकों के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल आए हैं और बारिश के बीच खुले मैदान में खड़े हैं.

थमने का नाम नहीं ले रहे भूकंप के झटके
बीते दो दिनों से भूकंप के झटके थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. रविवार दोपहर 12:42 बजे दिल्ली-एनसीआर में जबरदस्त झटके महसूस किए गए. नेपाल में 6.9 रिक्टर स्केल तीव्रता का भूकंप आया. भूकंप के बाद माउंट एवरेस्ट में फिर से हिमस्खलन की खबर है.

 

दूसरी तरफ, नेपाल से फंसे हुए लोगों को निकालने का काम तेजी से जारी है. भारतीय वायुसेना के विमान से फंसे हुए लोगों को काठमांडू से दिल्ली लाया जा रहा है. रविवार शाम 5 बजे भारतीय वायुसेना का C-17 ग्लोबमास्टर विमान 285 भारतीयों को लेकर दिल्ली के पालम एयरपोर्ट पर लैंड किया. शनिवार को भी करीब 546 भारतीयों को एयरफोर्स की मदद से दिल्ली लाया गया था.

दिल्ली के अलावा पंजाब, राजस्थान, हरियाणा, झारखंड और कोलकाता में भूकंप के झटके महसूस किए गए. दिल्ली में भूकंप की वजह से मेट्रो सेवा रोक दी गई. हालांकि बाद में मेट्रो को फिर से शुरू कर दिया गया. नेपाल में रविवार को यह लगातार चौथा तेज झटका है. भूकंप का केंद्र काठमांडू के पास कोडारी से 70 किलोमोटर दूर दक्षिण में बताया जा रहा है.

भूकंप की वजह से भारत ने नेपाल मे राहत कार्य 4 बजे तक रोक दिया गया था. त्रिसुली हाईड्रोपावर के टनल में 60 मजदूर फंसे होने की खबर है. रविवार में भूकंप के झटके दोबारा आने के बाद काठमांडू के त्रिभुवन एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया. जिसके बाद एयरपोर्ट पर फंसे हुए यात्रियों ने जमकर बवाल काटा.

भारत ने 34 सदस्यीय चिकित्सकीय टीम नेपाल भेजी
भारत ने भूकंप प्रभावित नेपाल के लिए रविवार को 15 टन चिकित्सकीय आपूर्ति के साथ चिकित्सकों और तकनीशियनों की 34 सदस्यीय एक टीम भेजी है. अधिकारियों ने बताया कि यह टीम नेपाल के लिए वायुसेना के एक विमान में रवाना हो चुकी है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया, ‘आज नेपाल के लिए 15 टन चिकित्सकीय साजो सामान रवाना किया गया. स्वास्थ्य मंत्रालय ने नेपाल में आपात चिकित्सकीय राहत मुहैया कराने के लिए 34 सदस्यीय चिकित्सकीय टीम भी भेजी है जिसमें 10 ऑर्थोपेडिक सर्जन, चार एनीस्थिटिस्ट्स, 12 पुरूष नर्स और आठ ओटी तकनीशियन शामिल हैं.’ इसके साथ ही जल शोधन संयंत्र स्थापित करने और संचालित करने के लिए तीन तकनीशियन भी भेजे गए हैं. मंत्रालय ने कल के विनाशकारी भूकंप के बाद स्वास्थ्य सेवाओं को हाई अलर्ट पर रखा है.

भरतपुर में भूकंप से मौत, 8 घायल
राजस्थान के भरतपुर में भूकंप की वजह से एक लड़की की मौत की खबर है. लड़की की मौत स्कूल की दीवार गिरने से हुई. जबकि 8 बच्चे घायल हो गए. कोटा में भी भूकंप से छत गिर गई. जबकि मुरादाबाद में एक घर की दीवार गिर गई.

इससे पहले नेपाल में शनिवार का आए भीषण भूकंप से अब तक करीब 3200 से ज्यादा लोग अपनी जिंदगी गंवा चुके हैं. रविवार सुबह भी नेपाल में भूकंप के झटके महसूस किए गए. भारतीय सेना ने नेपाल में बचाव कार्य के लिए 'ऑपरेशन मैत्री' शुरू कर बचाव कार्य तेज कर दिया है. उधर भारत में अब तक इससे 67 लोगों की मौत हुई है.

एनडीआरएफ की टीमें राहत-बचाव कार्य में जुट गई हैं. एनडीआरएफ के डायरेक्टर जनरल ओपी सिंह सोमवार को हालात का जायजा लेने नेपाल जाएंगे. नेपाल में भूकंप की वजह से बिजली की समस्याएं बनी हुई हैं. नेपाल में बिजली की समस्या दूर करने के लिए नेशनल पावर ग्रिड ने मदद की पहल की है.

बहुत तेजी से सेना कर रही है कार्रवाई
एयर चीफ मार्शल अरूप राहा ने बताया कि भारतीय प्राधिकारियों ने बहुत तेजी से कार्रवाई की और मुझे लगता है कि जरूरत के समय नेपाल में मानवीय सहायता और राहत अभियानों में मदद करने के लिए भारत में इच्छुक प्रत्येक पक्ष सक्रिय हो गया.' उन्होंने कहा, 'आज हमने सेना, खास कर उनकी कुछ फील्ड इंजीनियर कंपनियों, रेजीमेंट की ओर से उपकरण लेकर 10 बड़े विमान भेजने की योजना बनाई है. एक विमान जा चुका है और अन्य विमान तैयार हो रहे हैं. अभियान पूरा दिन चलेगा.'

8 मालवाहक विमान जाएंगे नेपाल
नेपाल में संकट के समय मदद देने वाला पहला देश भारत रविवार को अपना मिशन तेज कर रहा है. दिन में आठ मालवाहक विमान वहां जाने वाले हैं. इन विमानों के जरिए उपकरण, राहत सामग्री और विशेषज्ञों को नेपाल भेजा जाएगा. सेना की ओर से मेडिकल सहायता भी भेजी जाएगी. खोज एवं बचाव मिशन में मदद के लिए रविवार को कम से कम 12 हेलीकॉप्टर हिमालयी देश भेजे जाएंगे.

भूकंप से हिला नेपाल, देखें दर्दनाक तस्वीरें

नेपाल में अगले 72 घंटों में भूकंप के फिर से आने की आशंका है. नेपाल में आए भूकंप में करीब 3 लाख लोगों के फंसे हुए हैं. 7.9 रिक्टर स्केल की तीव्रता वाले भूकंप के बाद से ही पूरे नेपाल में दहशत का माहौल है. नेपाल के राष्ट्रपति राम बरन यादव ने भूकंप के खौफ से शनिवार रात खुले आसमां के नीचे बिताई. नेपाल में आए इस भीषण भूकंप में हजारों लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है.

दहशत भरी रही पूरी रात
शनिवार सुबह 11 बजे आए भूकंप के बाद भी नेपाल की धरती लगातार भूकंप से कांप रही है. शनिवार रात भी नेपाल में भूकंप के झटके रह रहकर महसूस किए गए. नेपाल की राजधानी काठमांडू में ही मरने वालों की संख्या एक हजार के आंकड़े को छू गई है. नेपाल के विनाशकारी भूकंप में 8 भारतीयों की भी मौत हो गई. भारतीय दूतावास परिसर में एक मकान गिर गया, जिससे एक सीपीडब्ल्यूडी कर्मी मदन की बेटी की मौत हो गई. दूसरे भारतीय की मौत बिर अस्पताल में हुई.

भारत-नेपाली में भूकंप की तस्वीरें

अब भी फंसे हैं कई भारतीय सैलानी
नेपाल में करीब 3 लाख विदेशी सैलानी फंसे हुए हैं. इनमें भारतीय भी शामिल हैं. भारतीय सैलानियों में गुजरात से सबसे ज्यादा 550 सैलानी हैं, जबकि महाराष्ट्र से 187 और कर्नाटक के 100 पर्यटक नेपाल में फंसे हुए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें