scorecardresearch
 

Moradabad: फर्नीचर कारोबारी के घर पर बुलडोजर चलवाने वाले SDM पर एक्शन, 18 दिन बाद सस्पेंड

फर्नीचर कारोबारी के घर पर बुलडोजर चलाने के मामले में एसडीएम बिलारी घनश्याम वर्मा को निलंबित कर दिया गया है. कारोबारी ने आरोप लगाया था कि जब वो 2,67,000 का पेमेंट लेने एसडीएम घनश्याम वर्मा के पास पहुंचा तो उसके बाद घर पर बुलडोजर चलवा दिया गया था. इस पूरे प्रकरण की जांच के बाद एसडीएम को निलंबित कर दिया गया.

X
मुरादाबाद के SDM घनश्याम वर्मा सस्पेंड (फोटो-आजतक) मुरादाबाद के SDM घनश्याम वर्मा सस्पेंड (फोटो-आजतक)

यूपी के मुरादाबाद में फर्नीचर कारोबारी के घर पर बुलडोजर चलाने के मामले में एसडीएम बिलारी घनश्याम वर्मा को निलंबित कर दिया गया है. दरअसल मुरादाबाद के बिलारी में फर्नीचर कारोबारी ने एलसीएम घनश्याम वर्मा को फर्नीचर दिया था. जब कारोबारी ने 2 लाख 67 हजार का पेमेंट लेने उनके पास पहुंचा तो उसके बाद उसके घर पर बुलडोजर चलवा दिया गया था.

इसके बाद इस मामले में जांच शुरू हो गई थी और मुरादाबाद जिला अधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने घनश्याम वर्मा को जिला मुख्यालय अटैच कर दिया गया था, एडीएम की जांच के मुताबिक जिस फर्नीचर कारोबारी के मकान पर एसडीएम ने बुलडोजर चलाया था वह बिलारी की नगर पालिका के इलाके में आता है जिस पर एसडीएम बिलारी का बुलडोजर चलाने का अधिकार नहीं है क्योंकि वह इलाका नगरपालिका के अंतर्गत आता है जिसकी जांच में दोषी पाए जाने के बाद एसडीएम घनश्याम वर्मा को निलंबित कर दिया गया है.

इस पूरे प्रकरण की जांच कमिश्नर ए के सिंह ने शासन को रिपोर्ट भेजी थी और एसडीएम के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी जिसके बाद 3 अगस्त मंगलवार को एसडीएम बिलारी घनश्याम वर्मा को निलंबित कर दिया गया है. आरोपी घनश्याम वर्मा ने कुछ अपने और कुछ अपनी बेटी के नाम पर फर्नीचर खरीदे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें