scorecardresearch
 

यूपी: कोरोना ने तोड़े इस साल के सारे रिकॉर्ड, वाराणसी समेत इन 4 शहरों से 50 फीसदी मामले

स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद का कहना है कि कोरोना संक्रमण ने इस साल के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. उत्तर प्रदेश में बिजली की रफ्तार से कोरोना का ग्राफ बढ़ रहा है. प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 8490 कोरोना पॉजिटिव केस मिले है.

उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना (सांकेतिक तस्वीर) उत्तर प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है कोरोना (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस के 126315 नए केस
  • यूपी के कानपुर, लखनऊ, वाराणसी और प्रयागराज से 50 फीसदी मामले

कोरोना वायरस की ताज़ा लहर अब कहर बनकर टूट रही है. पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए बुधवार को देश में सवा लाख से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं. आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना वायरस के 126315 नए केस सामने आए हैं. जबकि 684 लोगों की मौत हुई है. वहीं उत्तर प्रदेश में 8400 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. ऐसे में गुरुवार को नोएडा-गाजियाबाद समेत अन्य शहरों में नाइट कर्फ्यू का फैसला किया गया है. नोएडा-गाजियाबाद में स्कूल-कॉलेज समेत अन्य शिक्षण संस्थान 17 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं. 

स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद का कहना है कि कोरोना संक्रमण ने इस साल के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. उत्तर प्रदेश में बिजली की रफ्तार से कोरोना का ग्राफ बढ़ रहा है. प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 8490 कोरोना पॉजिटिव केस मिले हैं. इनमें से 50 फीसदी मामले लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर से हैं. प्रदेश में अभी भी 39, 338 एक्टिव केस हैं. 26 डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. 3 फैकल्टी और 5 रेजिडेंट डाक्टर भी कोरोना संक्रमित हुए हैं. जानकारी के मुताबिक लखनऊ केजीएमयू में कोरोना से हालात बिगड़ते हुए नजर आ रहे हैं. यहां 18 स्टाफ की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है. वहीं न्यूरो सर्जरी विभाग में 26 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.

कोरोना रोकथाम के लिए  सीएम योगी ने जिलों में नोडल अफसर भेजे हैं. बताया जा रहा है कि जहां ज्यादा कोविड केस हैं वहां नोडल अधिकारी तैनात किया गया है. जानकारी के मुताबिक सीएम कार्यालय लखनऊ से मॉनिटरिंग होगी.  ये नोडल अफसर जिलों में 15 दिन प्रवास करेंगे. 

कौन-कहां भेजा गया
 
- विपिन कुमार जैन लखनऊ के नोडल अधिकारी
- अंजनी कुमार सिंह कानपुर के नोडल अधिकारी
- आलोक सिंह अपर निदेशक सूडा प्रयागराज गए
- अमनदीप हुली को गाजियाबाद की जिम्मेदारी
- रवींद्र सिंह नोएडा के नोडल अधिकारी बनाए गए
- संदीप कुमार वाराणसी और प्रवीण मिश्रा मेरठ जाएंगे
- पवन अग्रवाल गोरखपुर और अनिल कुमार सिंह झांसी
- अरविंद चौहान आगरा और मनोज कुमार सहारनपुर
- मनोज कुमार बरेली और डॉ इंद्रमणि त्रिपाठी मुरादाबाद

वैक्सीन को लेकर हो रही है चिंता
देश में कोरोना का कहर बढ़ रहा है, तो वैक्सीन की मांग भी तेज़ हो गई है. महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश का कहना है कि उनके पास कुछ ही दिन का वैक्सीन स्टॉक बचा है, कुछ सेंटर्स पर वैक्सीन है ही नहीं. ऐसा ही नज़ारा वाराणसी में दिखा, जहां वैक्सीन ना होने के कारण लोगों को लौटाना पड़ रहा है. दूसरी ओर केंद्र दावा कर रहा है कि वैक्सीन की कोई कमी नहीं है. यही वजह है कि कोरोना संकट के बीच वैक्सीन को लेकर चिंताएं दूर करने की जरूरत है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें