scorecardresearch
 

यूपी: बारिश और आकाशीय बिजली ने तीन बच्चों सहित ली 11 लोगों की जान

इलाहाबाद के झुशी इलाके में ईदगाह की दीवार गिरने से 5 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी मृतकों के शव को पोस्मॉर्टम के लिए भेजा है.

बारिश से ढहा मकान बारिश से ढहा मकान

उत्तर प्रदेश में बारिश शुरू होते ही 11 लोगों के लिए काल बन गई. पहला हादसा सहारनपुर में हुआ, जहां भारी बारिश से एक मकान जमींदोज हो गया और जिसके नीचे दबकर तीन बच्चों की मौत हो गई.

वहीं दूसरा हादसा पीलीभीत में हुआ, जहां बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई और एक शख्स घायल हो गया. इसके आलावा इलाहाबाद में दीवार गिरने से 5 मजदूरों की मौत हो गई.

मकान गिरने से दबे छह लोग
पहला हादसा सहारनपुर के थाना कुतुबशेर के मानकमऊ गांव में हुआ, जहां मूसलाधार बारिश से इसरार का मकान पूरी तरह जमींदोज हो गया. इससे इसरार के परिवार के छह लोग दब गए. किसी तरह तीन लोगों को बाहर निकाला गया, लेकिन इसरार के तीन बच्चे बेटी फरहाना, साइबा और बेटे अब्दुल रहमान की दबकर मौत हो गई , जबकि घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

आकाशीय बिजली ने ली तीन लोगों की जान
दूसरा हादसा पीलीभीत में हुआ, जहां पीलीभीत रेलवे स्टेशन पर काम चल रहा है. सुबह मजदूर स्टेशन परिसर के रोलिंग इनआउट परिक्षण कक्ष में सो रहे थे. इस दौरान तेज बारिश के साथ आकाशीय बिजली गिरी, जिससे कमरे में रखे सामान में आग लग गई और वहां मौजूद तीन मजदूरों की जिंदा जलकर मौत हो गई. इस हादसे में चौथा मजदूर भी बुरी तरह झुलस गया, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है. मृतक मजदूर जयराम और नीरज हैं, जो हरदोई के रहने वाले है, जबकि तीसरा सोनू है, जो मुगलसराय का रहने वाला है.

दीवार गिरने से पांच की मौत
भारी बारिश का कहर संगम नगरी इलाहाबाद में भी देखने को मिला इलाहाबाद में शुक्रवार शाम से लगातार बारिश हो रही थी, जिसके बाद शनिवार को झुशी इलाके में ईदगाह की दीवार गिरने से 5 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी मृतकों के शव को पोस्मॉर्टम के लिए भेजा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें